दोनों सदनों में गूंजा धान खरीदी का मुद्दा, कांग्रेस के आरोपों पर BJP ने किया पलटवार

धान खरीदी के मुद्दे पर दुर्ग से बीजेपी सांसद विजय बघेल ने प्रदेश की कांग्रेस सरकार पर हमला किया. उन्होंने कहा कि किसानों से झूठ बोलकर कांग्रेस ने सरकार बनाई और अब किसान रो रहे हैं.

दोनों सदनों में गूंजा धान खरीदी का मुद्दा, कांग्रेस के आरोपों पर BJP ने किया पलटवार
संसद में उठे धान खरीदी के मुद्दे पर सीएम बघेल ने कहा कि संसद में चर्चा ज़रूरी थी. हम लगातार केंद्र से मांग कर रहे हैं. सेंट्रल पूल से राज्य का चावल खरीदा जाए, ताकि किसान और राज्य के साथ अन्याय ना हो.

रायपुर: केंद्र और छत्तीसगढ़ सरकार के बीच छिड़ी धान खरीदी के मुद्दा पर रार लोकसभा और राज्यसभा तक जा पहुंची. बुधवार को राज्यसभा में मोतीलाल वोरा, छाया वर्मा और पीएल पुनिया ने धान खरीदी का मुद्दा उठाया. वहीं, लोकसभा में नेता विपक्ष अधीर रंजन चौधरी ने धान खरीदी को लेकर केंद्र सरकार को घेरा.

लोकसभा में प्रश्न काल के बाद जैसे ही शून्य काल शुरू हुआ. अधीर रंजन ने धान खरीदी को लेकर मोदी सरकार के खिलाफ हल्ला बोल दिया. अधीर रंजन चौधरी ने मोदी सरकार पर किसान विरोधी होने और छत्तीसगढ़ से भेदभाव करने का आरोप लगाया. जिस पर राजनांदगांव से बीजेपी सांसद संतोष पांडेय ने पलटवार किया और भूपेश सरकार पर निशाना साधा. संतोष पांडेय ने कहा कि छत्तीसगढ़ में हर साल 1 नवंबर से धान खरीदा जाता था. लेकिन, चुनावों में जीत के लिए कांग्रेस ने किसानों से झूठ बोला. इससे पहले कांग्रेस सांसदों ने राज्यसभा में भी धान खरीदी का मुद्दा उठाया. छाया वर्मा ने नोटिस देकर प्रश्न काल में धान खरीदने की अपील की. साथ ही मोतीलाल वोरा और पीएल पुनिया ने भी मामले में मोदी सरकार पर निशाना साधा.

धान खरीदी के मुद्दे पर बीजेपी ने किया पलटवार
धान खरीदी के मुद्दे पर दुर्ग से बीजेपी सांसद विजय बघेल ने प्रदेश की कांग्रेस सरकार पर हमला किया. उन्होंने कहा कि किसानों से झूठ बोलकर कांग्रेस ने सरकार बनाई और अब किसान रो रहे हैं. उधर रायपुर से बीजेपी सांसद सुनील सोनी ने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने गंगाजल हाथ में रखकर किसानों को धान का मूल्य 2500 रुपए देने की बात कही थी. जिसे वो पूरा करने में असफल रहे हैं. ये पूरा विवाद कांग्रेस ने ही उत्पन्न किया है. 
 
धान खरीदी के मुद्दे पर बोले सीएम बघेल
वहीं, संसद में उठे धान खरीदी के मुद्दे पर सीएम बघेल ने कहा कि धान के मुद्दे पर संसद में चर्चा ज़रूरी थी. हम लगातार केंद्र से मांग कर रहे हैं. सेंट्रल पूल से राज्य का चावल खरीदा जाए, ताकि किसान और राज्य के साथ अन्याय ना हो. सीएम बघेल ने इस दौरान भाजपा नेता और सांसदों पर भी हमला बोला. सीएम बघेल ने कहा कि बीजेपी नेता और सांसद पीएम मोदी से डरते हैं. उनके सामने बोलने की हिम्मत नहीं करते हैं.