युवाओं के बीच करते थे नशे का कारोबार, जबलपुर पुलिस ने गिरोह का किया पर्दाफाश

जबलपुर की हनुमानताल थाना पुलिस ने नशीले इंजेक्शन बेचने वाले एक गिरोह का पर्दाफाश किया है. इस गिरोह का एक सदस्य को पकड़ा गया है. पकड़े गए आरोपी से बड़ी मात्रा में नशीले इंजेक्शन और सिरिंज बरामद हुई हैं.

युवाओं के बीच करते थे नशे का कारोबार, जबलपुर पुलिस ने गिरोह का किया पर्दाफाश
फाइल फोटो

कर्ण मिश्रा/ जबलपुर: जबलपुर की हनुमानताल थाना पुलिस ने नशीले इंजेक्शन बेचने वाले एक गिरोह का पर्दाफाश किया है. इस गिरोह का एक सदस्य को पकड़ा गया है. पकड़े गए आरोपी से बड़ी मात्रा में नशीले इंजेक्शन और सिरिंज बरामद हुई हैं, लेकिन नशे के इस काले धंधे का मुख्य सरगना फरार हो गया है. फिलहाल पुलिस पकड़े गए आरोपी से पूछताछ कर इसके बाकी के साथियों का पता लगा रही है.

पुलिस का कहना है कि उन्हें मुखबिर से सूचना मिली थी. मुखबिर ने बताया था कि चार खंबा बूढ़ी खेरमाई मंदिर के पास एक शख्स नशीले इंजेक्शन बेचने में की फिराक में है. जिसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची और नशीला इंजेक्शन बेच रहे युवक को दबोच लिया.

88 नशीली दवा वाली सिरिंज मिलीं
पुलिस का कहना है कि तलाशी लेने पर उसके पास से LUPICGESIC 2ML के 20, ALERVIL 10ML के 50 नशीले इंजेक्शन और 18 सिरिंज मिली है. वहीं पूछताछ में आरोपी ने अपना नाम इरशाद अहमद बताया है. इरशाद ने बताया कि नशे के इस कारोबार का मुख्य सरगना मुख्तार कंजा है, उसी के इशारे पर नशीले इंजेक्शन शहर में वह खपा रहा था.

ये भी पढ़ें-छत्तीसगढ़: BJP नेता ने बहन बन CM को भेजा पत्र, मुख्यमंत्री बोले अपने भाई नरेंद्र मोदी को भी भेजें राखी

इस उम्र के युवकों को बनाते थे शिकार
16 से 22 साल के युवकों को टारगेट बना उन्हें नशे की लत लगाते थे. फिर महंगे दामों में बेच मुनाफा कमाते थे.इरशाद अहमद ने बताया कि वो 16 से 22 साल तक के युवकों को सुनसान इलाको में नशे की सप्लाई करता था. बहरहाल हनुमानताल थाना पुलिस मुख्तार कंजा की तलाश में जुटी हुई है.

हनुमानताल थाना सीएसपी अखिलेश गौर का मानना है कि नशे के इस पूरे नेक्सस का वह जल्द खुलासा करेंगे. उन्होंने बताया कि इनमें कुछ डॉक्टर व दवा कारोबारी शामिल हैं. जिन्हें पुलिस जल्द बेनकाब करेगी.

Watch LIVE TV-