close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जीतू पटवारी बोले- कॉलेज में युवाओं तक गांधी पहुंचाएगी कांग्रेस, BJP ने कहा- वह सिर्फ राहुल तक सीमित

इस मामले में जीतू पटवारी ने सीएम कमलनाथ से पहले ही चर्चा करके हरी झंडी ले ली थी. अब वे इसे लागू करने में जुट गए हैं. कॉलेजों में नए सत्र के लिए एडमिशन प्रक्रिया शुरू हो गई है, लेकिन जब स्टूडेंट्स कॉलेज में पहुंचेंगे तो उन्हें कॉलेजों में गांधी की विचारधारा का प्रभाव दिखाई देगा.

जीतू पटवारी बोले- कॉलेज में युवाओं तक गांधी पहुंचाएगी कांग्रेस, BJP ने कहा- वह सिर्फ राहुल तक सीमित
मध्य प्रदेश शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी (फाइल फोटो)

भोपालः मंत्री जीतू पटवारी ने घोषणा की है कि नए सत्र से कांग्रेस अब नवाचार कर रही है. इसमें सबसे अहम महात्मा गांधी के विचारों को जन-जन तक पहुंचाना है. इसके लिए कॉलेजों में गांधी को लेकर कार्यक्रम किए जाएंगे, लेकिन इसे कांग्रेस का राष्ट्रवाद के खिलाफ प्लान समझा जा रहा है. बीते लोकसभा चुनाव में राष्ट्रवाद बड़ा मुद्दा रहा और बीजेपी ने केंद्र में दूसरी बार सत्ता हासिल करने में कामयाबी हासिल की. कांग्रेस मध्य प्रदेश में 29 में से 28 सीटें गंवा चुकी थी, लेकिन अब राष्ट्रवाद के खिलाफ अभियान शुरू किया जा रहा है. इस मामले में जीतू पटवारी ने सीएम कमलनाथ से पहले ही चर्चा करके हरी झंडी ले ली थी. अब वे इसे लागू करने में जुट गए हैं. कॉलेजों में नए सत्र के लिए एडमिशन प्रक्रिया शुरू हो गई है, लेकिन जब स्टूडेंट्स कॉलेज में पहुंचेंगे तो उन्हें कॉलेजों में गांधी की विचारधारा का प्रभाव दिखाई देगा.

चूंकि मंत्री जीतू पटवारी अपनी इस योजना के जरिये राष्ट्रवाद पर प्रहार कर रहे हैं. इसलिए बीजेपी का तिलमिलाना लाजमी है. बीजेपी सरकार में नागरिक आपूर्ति निगम के अध्यक्ष रहे बीजेपी नेता हितेषी वाजपेयी ने कहा है कि मंत्री जीतू पटवारी कभी राहुल गांधी के प्रभाव से बाहर ही नहीं निकले हैं. इसलिए संदेह है कि गांधी की विचारधारा को वे महात्मा गांधी की विचारधारा समझ रहे हों. वाजपेयी ने कटाक्ष किया कि जीतू राहुल गांधी के साथ तस्वीरें खिंचवाते और मोटर साइकल पर घुमाते नजर आते हैं. कभी महात्मा गांधी के विचारों के साथ नजर नहीं आते हैं. इसलिए ये योजना राहुल गांधी के इर्दगिर्द ही रहेगी.

मध्य प्रदेश के 7 लाख से ज्यादा कर्मचारियों का बढ़ेगा तीन फीसदी महंगाई भत्ता

दरअसल, बीते लोकसभा चुनाव के बाद कांग्रेस अब अपनी विचारधारा के प्रचार में जी जान से जुट गई है. कांग्रेस कोर ग्रुप की बैठक में इस बात पर चिंता जाहिर की गई थी कि बीते 15 साल से मध्य प्रदेश की सत्ता पर काबिज रही बीजेपी ने सरकार के जरिए ज़मीनी स्तर पर अपनी विचारधारा का प्रचार कर लिया है. इसके प्रभाव के चलते ही लोकसभा चुनाव में बीजेपी को फायदा हुआ. कोर ग्रुप की बैठक में ही फैसला हुआ कि बीजेपी विचारधारा की लड़ाई को तेज किया जाएगा. उच्च शिक्षा विभाग के मंत्री जीतू पटवारी की इस योजना को इसी रणनीति का नतीजा समझा जा रहा है. 

CM कमलनाथ की अपीलः बेटियों के प्रति मानसिकता बदलने के लिए सोशल मीडिया का बेहतर उपयोग करें

कांग्रेस ने रणनीति बनाई है कि 18 से 40 साल तक के युवाओं पर फोकस करके उन्हें हिन्दुत्ववादी विचारधारा से निकालकर उदारवाद और सर्वधर्म समभाव वाली कांग्रेस विचारधारा के बारे में समझाया जाए. इसकी वजह ये है कि ये युवा बीते पंद्रह साल से बीजेपी सरकार और उसके प्रचार के प्रभाव में रहा है. इन दिनों कांग्रेस के बारे में वह उतनी ही बातें समझ पाया है, जितनी बीजेपी ने बताई है. और बीजेपी ने कांग्रेस के बारे में गलत प्रचार करके भ्रम फैला दिया है. कांग्रेस की मंशा इसी भ्रम और दुष्प्रचार को दूर करने की है.