close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कमलनाथ सरकार ने नहीं सुनी बात, जंप रोप की नेशनल प्लेयर ने की शिवराज से मुलाकात

उज्जैन की रहने वाली सौम्या अग्रवाल जंप रोप की राष्ट्रीय खिलाड़ी हैं. सौम्या ने इंटरनेशनल कॉम्पीटिशन में गोल्ड से लेकर कई पदक जीते हैं. 

कमलनाथ सरकार ने नहीं सुनी बात, जंप रोप की नेशनल प्लेयर ने की शिवराज से मुलाकात
जंप रोप में सौम्या अग्रवाल वर्ल्ड रिकॉर्ड भी बना चुकी हैं. सौम्या अग्रवाल का रिकॉर्ड गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज है.

भोपाल: एक तरफ क्रिकेट जैसे खेल पर करोड़ों रुपये पानी की तरह बहाए जाते हैं. क्रिकेट खिलाड़ी करोड़ों कमाते हैं और सेलिब्रेटी बन जाते हैं. वहीं, देश में कई खेल और उसके खिलाड़ी ऐसे भी हैं, जो खेल सुविधाओं के लिए मोहताज हैं. अपनी प्रतिभा के दम पर देश का नाम दुनिया मे रोशन करने वाले ऐसे खिलाड़ी सुविधाओं के अभाव में दर-दर भटकते हैं. ऐसे ही खिलाड़ियों में से एक हैं, उज्जैन की जंप रोप खेल की नेशनल खिलाड़ी सौम्या अग्रवाल. 

उज्जैन की रहने वाली सौम्या अग्रवाल जंप रोप की राष्ट्रीय खिलाड़ी हैं. सौम्या ने इंटरनेशनल कॉम्पीटिशन में गोल्ड से लेकर कई पदक जीते हैं. जंप रोप में सौम्या अग्रवाल वर्ल्ड रिकॉर्ड भी बना चुकी हैं. सौम्या अग्रवाल का रिकॉर्ड गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज है. विदेशी धरती पर सौम्या अग्रवाल ने भारत का नाम कई बार रोशन किया है, लेकिन सौम्या को अपने खेल के लिए सुविधाओं की जरूरत है. जरूरत को पूरा करने के लिए वह राज्य सरकार की तरफ नजर लगाए बैठी हैं. 

 

दरअसल, सौम्या अग्रवाल के पास प्रैक्टिस करने के लिए अलग से कोई ग्राउंड नहीं है. उज्जैन के तरणताल के कच्चे ग्राउंड के सीमेंट कोर्ट पर ही सौम्या और जंप रोप के दूसरे खिलाड़ी प्रैक्टिस करते हैं. सौम्या अग्रवाल का चयन चीन में आयोजित ओपन जंप रोप चैंपियनशिप के लिए हुआ है. अगले महीने ये चैंपियनशिप होने वाली है. सौम्या अग्रवाल को सीमेंट कोर्ट पर ही अपनी प्रैक्टिस करना पड़ रही है. सौम्या के कोच मुकुंद झाला कई बार सरकार और जिला प्रशासन से वुडन कोर्ट की मांग कर चुके हैं, लेकिन अभी तक खिलाड़ियों को वुडन कोर्ट नहीं मिल पाया है.

जिले में एक स्पोर्टस ग्राउंड है, लेकिन उसमें प्रैक्टिस करने की अनुमति नहीं मिलती है. सरकार ने जब सौम्या अग्रवाल और उनके कोच की मांग को नहीं सुना, तो उन्होंने रविवार को पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से मुलाकात की. शिवराज सिंह चौहान ने मुलाकात के बाद सौम्या अग्रवाल को वुडन कोर्ट बनवाने का आश्वासन दिया है. शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि सौम्या अग्रवाल प्रतिभावान खिलाड़ी हैं. उनकी मांग जंप रोप के लिए वुडन कोर्ट बनवाने की है. मैं सरकार से चर्चा करूंगा और खिलाड़ियों के लिए वुडन कोर्ट बनाने की मांग करूंगा.

शिवराज ने कहा कि सरकार की ओर से मदद न मिल पाने की स्थिति में जनसहयोग से वुडन कोर्ट बनवाया जाएगा. वहीं सौम्या अग्रवाल का कहना है कि हम जैसे कई खिलाड़ी देश का नाम रोशन करते हैं. सरकार को ऐसे खिलाड़ियों की सुविधाओं पर ध्यान देना चाहिए. सौम्या के कोच मुकुंद झाला का कहना है कि कई बार सरकार और प्रशासन से वुडन कोर्ट की मांग कर चुके हैं. लेकिन, अभी तक खिलाड़ियों को वुडन कोर्ट नहीं मिल पाया है. इसलिए शिवराज सिंह चौहान से मिले हैं. उन्होंने वुडन कोर्ट बनवाने का आश्वासन दिया है.