मंदसौर रेप केस: कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने की CBI जांच की मांग, बोले- 'प्रदेश में महिलाएं सुरक्षित नहीं'

मंदसौर रेप केस पिछले कुछ दिनों से लगातार खबरों में बना हुआ है. 8 साल की मासूम से हुए बर्बरता से पूरा देश एक बार फिर से सकते में है. 

मंदसौर रेप केस: कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने की CBI जांच की मांग, बोले- 'प्रदेश में महिलाएं सुरक्षित नहीं'
(फोटो साभार: ANI)
Play

भोपाल: मंदसौर रेप केस पिछले कुछ दिनों से लगातार खबरों में बना हुआ है. 8 साल की मासूम से हुए बर्बरता से पूरा देश एक बार फिर से सकते में है. कांग्रेस नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मंदसौर रेप केस मामले पर बोलते हुए कहा कि यह शिवराज सरकार की विफलता है कि मंदसौर में मासूम लड़की के बलात्कार के मामले में प्राथमिकी दर्ज करने में काफी समय लग गया. ज्योतिरादित्य ने आगे कहा कि हम इस मामले में सीबीआई जांच की मांग करते हैं.

कांग्रेस के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने भी ट्वीट करते हुए इस मामले में लिखा कि मध्यप्रदेश में मंदसौर में एक आठ साल की लड़की के साथ हुआ गैंगरेप हुआ है. बच्‍ची जिंदगी और मौत से जूझ रही है. इस बर्बर घटना ने मुझे बेचैन कर दिया है. एक देश के रूप में हमें अपने बच्चों को बचाने के लिए एकजुट होकर आगे आना होगा और दोषियों को शीघ्र न्याय दिलाना होगा.

मंदसौर: 7 साल की बच्‍ची से हुई निर्भया के जैसी दरिंदगी, अस्‍पताल में निढाल पड़ी है मासूम

इससे पहले कांग्रेस के प्रदेश अध्‍यक्ष कमलनाथ ने ट्वीट करते हुए लिखा कि प्रदेश में मासूम बालिकाओं के साथ दरिंदगी की घटनाएं जारी, मंदसौर की घटना निंदनीय. हाल ही के सर्वे में सामने आया कि भारत में महिलाएं सबसे ज़्यादा असुरक्षित है, वहीं म.प्र. महिला अपराध में देश में पहले से ही नं 1 है. इन घटनाओं पर कब रोक लगेगी?कब बहन-बेटियां को सुरक्षित माहौल मिलेगा?

वहीं प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि आरोपी को जल्द से जल्द सख्त सजा मिले, इसके लिए सरकार हरसंभव प्रयास करेगी. उन्होंने कहा कि ये घटना दरिंदगी की इंतेहां है, सरकार आरोपियों को जल्द से जल्द फांसी दिलाने की कोशिश करेगी. मंदसौर के बार एसोसिएशन ने आरोपी की पैरवी नहीं करने का भी फैसला लिया है. एसोसिएशन ने कहा बच्ची के पक्ष में 100 वकील नि:शुल्क पैरवी करेंगे. 

मंदसौर रेप केस: CM शिवराज सिंह ने किया ऐलान, आरोपी को होगी फांसी की सजा

क्‍या है मामला
बता दें कि मंदसौर में मंगलवार को स्कूल से गायब हुई 7 साल की छात्रा के साथ दुष्कर्म की पुष्टि हुई है. पीड़ित मासूम के शरीर पर कई जगह चोट के निशान पाए गए थे. मासूम के चेहरे पर भी कई कट के निशान थे. जिसके बाद छात्रा को मंदसौर से इलाज के लिए इंदौर रेफर किया गया था. इंदौर में हुई जांच में बच्ची के साथ यौन हिंसा की पुष्टी की गई है. बता दें पुलिस को बच्ची 12 बजे करीब मंदसौर बस स्टैंड के पीछे लक्ष्मण दरवाजे के पास झाड़ियों में नाले के करीब बदहवास हालत में मिली थी. जिसके बाद बच्ची की हालत देखते हुए पुलिस सबसे पहले बच्ची को जिला अस्पताल लेकर पहुंची. जहां बच्ची की गंभीर हालत देखते हुए बच्ची को इंदौर के जिला अस्पताल के लिए रेफर किया गया था.