MP: कांग्रेस छोड़ने की अटकलों पर ज्योतिरादित्य सिंधिया ने दिया ये बड़ा बयान

तिरादित्य सिंधिया द्वारा सोशल मीडिया वॉल पर कांग्रेस नेता की जगह समाजसेवी लिखने से राजनीतिक हलकों में कांग्रेस छोड़ने की अटकलों का बाजार गर्म हो गया था.

MP: कांग्रेस छोड़ने की अटकलों पर ज्योतिरादित्य सिंधिया ने दिया ये बड़ा बयान
सिंधिया ने कहा कि एक महीने पहले अपना ट्विटर स्टेटस बदला था, जिसको लेकर इस तरह की अफवाह फैली हुई.

ग्वालियर: मध्य प्रदेश में कमलनाथ के मुख्यमंत्री बनने के बाद से ही कांग्रेस में नंबर गेम शुरू हो गया था. वहीं, हाल ही में कांग्रेस नेता और पूर्व सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया द्वारा सीएम कमलनाथ को विकास कार्यों के लिए लिखे गए पत्रों ने भी काफी सुर्खियां बटोरी थीं. इन सबके बीच ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर कांग्रेस नेता की जगह समाजसेवी और क्रिकेट प्रेमी लिख दिया था. इसके बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया के कांग्रेस छोड़ने की अटकलों को जमकर हवा मिली थी. बता दें कि सिंधिया ने इससे पहले भी कांग्रेस की विचारधारा के विपरीत आर्टिकल 370 हटाने का समर्थन किया था.

वहीं, ज्योतिरादित्य सिंधिया द्वारा सोशल मीडिया वॉल पर कांग्रेस नेता की जगह समाजसेवी लिखने से राजनीतिक हलकों में कांग्रेस छोड़ने की अटकलों का बाजार गर्म हो गया था. हालांकि, अब ज्योतिरादित्य सिंधिया ने इन सभी अटकलों को खारिज कर दिया है. कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया शनिवार को एक दिवसीय दौरे पर ग्वालियर पहुंचे थे. यहां कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा सिंधिया का रेलवे स्टेशन पर स्वागत किया गया. मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा कि वह पार्टी के समर्पित कार्यकर्ता हैं और पार्टी के लिए जमीनी स्तर पर काम कर रहे हैं. 

सिंधिया ने कहा कि एक महीने पहले अपना ट्विटर स्टेटस बदला था, जिसको लेकर इस तरह की अफवाह फैली हुई. उन्होंने कहा कि मैंने लिखा था कि मैं समाजसेवी और क्रिकेट प्रेमी हूं, जो मैं हूं. इस पर कोई अटकलों का दौर नहीं चलना चाहिए. इस तरह की अटकलों पर विराम लगना चाहिए. इसके साथ ही महाराष्ट्र में हुए गठबंधन पर उन्होंने कहा कि यह गठबंधन राजनीतिक दलों का गठबंधन नहीं है. बल्कि, विकास के लिए तीन पार्टियों का गठबंधन है. उन्हें पूरी उम्मीद है कि महाराष्ट्र में विकास की नई इबारत लिखी जाएगी. 

वहीं, सिंधिया के पार्टी छोड़े जाने की अटकलों पर कमलनाथ सरकार में महिला एवं बाल विकास मंत्री इमरती देवी ने कहा कि सिंधिया कांग्रेस के नेता हैं. मध्यप्रदेश में कांग्रेस की सरकार है और वह महाराज के साथ हैं. उन्होंने कहा कि सिंधिया पार्टी छोड़कर नहीं जा रहे हैं. वह कांग्रेस के लिए ही लगातार काम कर रहे हैं.

ये वीडियो भी देखें: