close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

मध्य प्रदेश: ज्योतिरादित्य सिंधिया दौरा रद्द कर पहुंचे भोपाल, विधायकों की बैठक में शामिल

कांग्रेस सांसद सिंधिया को शिवपुरी में रविवार को और दो कार्यक्रमों में हिस्सा लेना था, मगर अचानक उन्हें विशेष विमान से भोपाल पहुंचना पड़ा.

मध्य प्रदेश: ज्योतिरादित्य सिंधिया दौरा रद्द कर पहुंचे भोपाल, विधायकों की बैठक में शामिल
ज्योतिरादित्य सिंधिया को विशेष विमान से भोपाल पहुंचना पड़ा.

भोपाल/शिवपुरी: मध्य प्रदेश में चल रहे बहुमत के गणित का आंकड़ा पूरा करने की कवायद के बीच पूर्व मंत्री और कांग्रेस सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया अपने संसदीय क्षेत्र गुना-शिवपुरी का दौरा रद्द कर अचानक भोपाल पहुंचे. रविवार की रात विधायकों की बैठक हुई. पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस सांसद ज्योतिरादित्य सिधिया ने अपने तीन दिवसीय दौरे के तहत रविवार को कई कार्यक्रम में शिरकत की. सिंधिया को शिवपुरी में रविवार को और दो कार्यक्रमों में हिस्सा लेना था, मगर अचानक उन्हें विशेष विमान से भोपाल पहुंचना पड़ा.

भोपाल में रविवार रात को नवनिर्वाचित विधायकों की बैठक हो रही है. यह बैठक पार्टी के लिए अहम है, क्योंकि सोमवार से विधानसभा का सत्र शुरू हो रहा है. इसमें विधानसभा अध्यक्ष का चुनाव होना और पार्टी को अपना बहुमत भी साबित करना पड़ सकता है.

कई विधायक नाराज
कांग्रेस सत्ता में बसपा, सपा और निर्दलीय विधायकों के समर्थन से आ पाई है. कई विधायक मंत्री न बनाए जाने से नाराज चल रहे हैं. इसी के चलते सिंधिया का दौरान अचानक रद्द कर भोपाल जाना पड़ा है. भोपाल में विधायकों की बैठक हुई. इस बैठक में 118 विधायक पहुंचे, तीन विधायक बैठक में नहीं पहुंचे. कांग्रेस कुल 121 विधायकों के समर्थन का दावा कर चुकी है.

प्रदेश अध्यक्ष के नाम पर चर्चा
सूत्रों का कहना है कि मुख्यमंत्री कमलनाथ सिंधिया और दिग्विजय सिंह के साथ मंत्रणा कर विधानसभा अध्यक्ष और पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष के नाम पर भी सहमति बनाई जा सकती है. वहीं विधायकों के लिए व्हिप भी जारी हो सकती है, क्योंकि कुछ विधायक नाराज हैं और वे विधानसभा अध्यक्ष के चुनाव में मतदान न करने की जिद पर अड़ सकते हैं.

राफेल सबसे बड़ा घोटाला
इससे पहले, शिवपुरी में पत्रकारों से चर्चा में सांसद सिधिया ने केंद्र सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि राफेल सबसे बड़ा घोटाला है. इस मामले में सांसद में रक्षामंत्री और केंद्रीय वित्तमंत्री कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा उठाए गए प्रश्नों के जबाव नहीं दे पाए. कांग्रेस सांसद ने कहा कि विमानों के सौदे को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जवाब देने से बच रहे हैं.