सिंधिया का कमलनाथ पर निशाना, बोले- वादा खिलाफी का इतिहास देखा, समय आने पर सब बताऊंगा

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने मुद्दा उठाया है कि शिवराज कैबिनेट के 33 में 14 मंत्री ऐसे हैं जो वर्तमान में विधानसभा के सदस्य नहीं हैं. उन्होंने इसे लोकतंत्र और संविधान के साथ खिलवाड़ बताया है. 

सिंधिया का कमलनाथ पर निशाना, बोले- वादा खिलाफी का इतिहास देखा, समय आने पर सब बताऊंगा
ज्योतिरादित्य सिंधिया. (File Photo)

भोपाल: मध्य प्रदेश में गुरुवार को शिवराज मंत्रिमंडल का विस्तार हुआ. कुल 28 मंत्रियों ने पद और गोपनीयता की शपथ ली. इनमें 20 ने कैबिनेट मंत्री के रूप में शपथ ली और 8 ने राज्यमंत्री के रूप में. इसके साथ ही मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की कैबिनेट में कुल मंत्रियों की संख्या 33 हो गई है.

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने मुद्दा उठाया है कि शिवराज कैबिनेट के 33 में 14 मंत्री ऐसे हैं जो वर्तमान में विधानसभा के सदस्य नहीं हैं. उन्होंने इसे लोकतंत्र और संविधान के साथ खिलवाड़ बताया है. मध्य प्रदेश कांग्रेस ने शिवराज के कैबिनेट विस्तार को प्रजातंत्र की हत्या और काला दिवस बताया है.

MP: शिवराज की कैबिनेट में बढ़ा सिंधिया का कद, उनके खेमे से ये 9 नेता बने मंत्री

इस पर ज्योतिरादित्य सिंधिया ने प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने कहा, ''कांग्रेस छटपटा रही है. काला दिन उन्हें उस दिन मनाना चाहिए जब देश में इमरजेंसी लागू की गई. कांग्रेस जनता से कट गई है और अपने तक सिमट गई है. यही सबसे बड़ी कठिनाई है.'' कमलनाथ और दिग्विजय सिंह के मध्य प्रदेश की चिंता नहीं करने के आरोपों पर सिंधिया ने कहा, ''लॉकडाउन के चलते मैं 2 माह मध्य प्रदेश नहीं आ पाया.''

सिंधिया ने कहा, ''मैं देख रहा हूं जो कमलनाथ विश्व की बात करते हैं. कमलनाथ, दिग्विजय सिंह और कांग्रेस पार्टी को कोरोना की चिंता नहीं है. उन्हें चिंता है तो सिर्फ इस बात की कि कुर्सी चली गई है और मिर्ची लगी है. सिंधिया फाउंडेशन कोरोना सेवा में लगा हुआ था. एक-एक राज्यों ओर विदेश से लोगों को वापस लाया हूँ. दिग्विजय, कमलनाथ ने दो माह में क्या किया. उन्हें तो खुद की चिंता है.''

मंत्रियों के बीच अंतर्कलह पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा- गलतफहमी दूर कर लें

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा, ''ना मुझे कमलनाथ से प्रमाण पत्र चाहिए, ना दिग्विजय सिंह से प्रमाण पत्र चाहिए. प्रदेश की जनता के सामने तथ्य है कि उन्होंने किस तरीके से मध्य प्रदेश के भंडार को लूटा है और श्वेत पूर्णता अपने आप ले लिया है. वादा खिलाफी का इतिहास देखा है. समय आया तो सब कुछ बताऊंगा. पर मैं केवल इन दोनों को यही कहना चाहता हूं कि टाइगर अभी जिंदा है.''

WATCH LIVE TV