close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

सिंधिया ने लिखा PM मोदी को पत्र, बाढ़ पीड़ितों के लिए मांगी 10 हजार करोड़ की मदद

पत्र में सिंधिया ने पीएम मोदी से तत्काल राहत राशि जारी करने का आग्रह किया है. सिंधिया ने मध्य प्रदेश में बाढ़ से आई तबाही का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से जल्द से जल्द 10 हजार करोड़ की सहायता राशि जारी करने की मांग की है.

सिंधिया ने लिखा PM मोदी को पत्र, बाढ़ पीड़ितों के लिए मांगी 10 हजार करोड़ की मदद
ज्योतिरादित्य सिंधिया (फाइल फोटो)

भोपालः मध्यप्रदेश में बाढ़ आपदा को लेकर ज्योतिरादित्य सिंधिया ने प्रधानमंत्री को पत्र लिखा है. पत्र में सिंधिया ने पीएम मोदी से तत्काल राहत राशि जारी करने का आग्रह किया है. सिंधिया ने मध्य प्रदेश में बाढ़ से आई तबाही का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से जल्द से जल्द 10 हजार करोड़ की सहायता राशि जारी करने की मांग की है. साथ ही अपने दौरे का जिक्र करते हुए कहा है कि, 'मैंने 10 से अधिक बाढ़ प्रभावित जिलों का दौरा किया है. बाढ़ और अतिवृष्टि से बड़े पैमाने पर फसल प्रभावित हुई है और जानमाल को भी भारी हानि हुई है. जिससे प्रदेश के किसान और जनता को संकट की इस घड़ी में सहायता की जरूरत है.'

सिंधिया ने ट्वीट करते हुए कहा कि, 'मैंने मंदसौर, नीमच के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा किया है जहां फसलें पूर्णतया बर्बाद हो गई हैं. प्रदेश सरकार से मैंने सर्वे करवाकर शत-प्रतिशत मुआवजा, राशि और केन्द्र सरकार से विशेष मेगा राहत पैकेज की मांग की है.'

देखें LIVE TV

सोनिया गांधी ने कहा- खतरे में है लोकतंत्र, बदले की राजनीति में लगी है केंद्र सरकार

बता दें मध्य प्रदेश में अतिवृष्टि और बाढ़ ने बड़े पैमाने पर खेती और जान-माल को नुकसान पहुंचाया है. कई क्षेत्रों के खेतों की फसलें पानी में डूब गई हैं. किसानों पर बरसी आफत को लेकर सियासत भी तेज हो गई है. पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जगह-जगह धरना-प्रदर्शन कर रहे हैं तो मुख्यमंत्री कमलनाथ ने किसानों को हर संभव मदद का भरोसा दिलाया है.

बाढ़ के हालात पर बोले ज्योतिरादित्य सिंधिया, 'प्राकृतिक आपदा जैसे मुद्दों पर नहीं होनी चाहिए राजनीति'

वहीं कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भी मंगलवार से बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा शुरू कर दिया है. सरकारी आंकड़े के अनुसार, राज्य में बारिश-बाढ़ से लगभग 12 हजार करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है. इसमें सबसे ज्यादा नुकसान किसानों को हुआ है. लगभग 22 लाख किसानों की 24 हेक्टेयर खेती को नुकसान हुआ है. राज्य सरकार ने केंद्र से राहत राशि की मांग की है.