close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

मध्य प्रदेश में कुपोषण के खात्मे के लिए कमलनाथ सरकार ने बनाई ये योजना

शुरुआती तौर पर इस योजना की शुरुआत आदिवासी इलाकों की आंगनबाड़ियों से होगी.

मध्य प्रदेश में कुपोषण के खात्मे के लिए कमलनाथ सरकार ने बनाई ये योजना
महिला एवं बाल विकास मंत्री इसे कुपोपण दूर करने की दिशा में उठाया गया बड़ा कदम मान रही हैं.

भोपाल: मध्यप्रदेश की कमलनाथ सरकार शुद्ध के खिलाफ युद्ध के बाद अब कुपोषण के खात्मे का प्लान कर रही है. प्रदेश की महिला एवं बाल विकास मंत्री इमरती देवी के मुताबिक प्रदेश के 89 आदिवासी ब्लॉक के आंगनवाड़ी केंद्र में बच्चों को अंडा बांटा जाएगा. मीडिया से चर्चा में इमरती देवी ने कहा कि कुपोषण को मिटाने के लिए पहले की सरकारों ने भी कई योजनाएं बनाई, लेकिन कुपोषण खत्म नहीं हुआ. अब हम हर कुपोषित बच्चे को अंडा खिलाएंगे, ताकि वो स्वस्थ हो सके. शुरुआती तौर पर इसे आदिवासी इलाकों के आंगनबाड़ियों में इस योजना की शुरुआत होगी.

इमरती देवी ने कहा कि उसके बाद परिणाम आने के बाद इसे बाकी की आंगनबाड़ियों में भी बांटने की योजना पर विचार किया जाएगा. महिला एवं बाल विकास मंत्री इसे कुपोपण दूर करने की दिशा में उठाया गया बड़ा कदम मान रही हैं. प्रदेश में करीब एक लाख से ज्यादा आंगनबाड़ी केंद्र है. इन केंद्रों में अस्सी लाख से ज्यादा बच्चों को पोपण आहार दिया जाता है. पोषक तत्वों के लिए राज्य सरकार 5 हजार करोड़ रुपये का बजट विभाग को जारी करता है. जिसमें से 1517 करोड़ रूपये आहार पर खर्च किया जाता है. अंडे खिलाने की योजना से 80-90 करोड़ का बजट और बढ़ेगा.