महबूबा-फारूक के रिहा होने पर क्यों बोले कुमार विश्वास - 'कुछ जल्दी बाहर नहीं आ गए ये'

नेशनल कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला 13 मार्च को नजरबंदी से रिहा हुए थे वहीं 14 महीने बाद महबूबा मुफ्ती को भी रिहा कर दिया गया. 

 महबूबा-फारूक के रिहा होने पर क्यों बोले कुमार विश्वास - 'कुछ जल्दी बाहर नहीं आ गए ये'
फाइल फोटो

नई दिल्ली: मशहूर कवि डॉ. कुमार विश्वास मुखर होकर सामाजिक विषयों पर अपनी प्रतिक्रिया हमेशा देते रहते हैं. विश्वास ने ट्वीट कर जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री रहे फारूक अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती के धारा 370 की बहाली के सवाल पर कड़ी प्रतिक्रिया दी है.

उन्होंने अपने ट्वीटर हैंडल से लिखा, '' पार साल सरकार ने जब ये सारे ख़ानदान अपने-अपने कोटरों में जमा कराए थे तो बहुत से लोगों को और कभी-कभी तो मुझे भी लगता था कि इतनी लंबी क़ैद ठीक नहीं है पर अब देश की संसद में पास क़ानून के ख़िलाफ़,चीन-पाकिस्तान से मदद के इनके स्वाँग को देखकर लगता है कि “कुछ जल्दी बाहर नहीं आ गए ये”

धारा 370 की बहाली की कर रहे वकालत
जम्मू कश्मीर के इन दोनों नेताओं ने राज्य में दोबारा धारा 370 लागू करने की मांग उठाई थी. मुफ्ती ने ट्वीटर पर ऑडियो संदेश में धारा 370 को दोबारा हासिल करने का ऐलान किया. वहीं  फारूक अब्दुल्ला ने जम्मू-कश्मीर में धारा 370 को दोबारा लागू करने के लिए चीन से मदद मांगी थी. 

दोनों हो चुके हैं रिहा
नेशनल कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला 13 मार्च को नजरबंदी से रिहा हुए थे वहीं 14 महीने बाद महबूबा मुफ्ती को भी रिहा कर दिया गया. पिछले वर्ष जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री और पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) की अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती और फारूक अब्दुल्ला 4 अगस्त को जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने से पहले हिरासत में लिए गए थे.

WATCH LIVE TV