close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अपनी मौत की भविष्यवाणी करने वाले कुंजीलाल का निधन, इन पर बनी थी फिल्म 'पीपली लाइव'

ग्रामीणों ने बताया कि 20 अक्टूबर, 1930 को जन्मे कुंजीलाल मध्य प्रदेश के सेहरा गांव के रहने वाले थे. वह अपने पूर्वजों के दिए पांसे और रमल विद्या के जरिये भविष्यवाणी किया करते थे.

अपनी मौत की भविष्यवाणी करने वाले कुंजीलाल का निधन, इन पर बनी थी फिल्म 'पीपली लाइव'
कुंजीलाल की इसी कहानी पर बाद में उनके गांव सेहरा के करीबी गांव पिपला के नाम पर पीपली लाइव फिल्म भी बनाई गई थी.

इरशाद हिंदुस्तानी/बैतूल: करीब 14 साल पहले अपनी ही मौत की भविष्यवाणी कर देश दुनिया मे मशहूर हुए कुंजीलाल की बीते शुक्रवार को मौत हो गई. कुंजीलाल की भविष्यवाणी के बाद देशभर की मीडिया उनकी मौत का सीधा प्रसारण करने के लिए उनके गांव में जुट गई थी. हालांकि, उनकी उस दिन मौत नहीं हुई थी. इसके पीछे कहा जाता है कि करवाचौथ पर उनकी पत्नी ने उनकी लंबी उम्र के व्रत रखा था, इसलिए भविष्यवाणी की बात विफल हो गई. इसके चलते उनकी मौत नही हुई. कुंजीलाल की इसी कहानी पर फिल्म 'पीपली लाइव' बनाई गई थी.

ग्रामीणों ने बताया कि 20 अक्टूबर, 1930 को जन्मे कुंजीलाल मध्य प्रदेश के सेहरा गांव के रहने वाले थे. वह अपने पूर्वजों के दिए पांसे और रमल विद्या के जरिये भविष्यवाणी किया करते थे. उनकी इस विद्या के चलते दूर-दूर से लोग उनके पास भविष्य जानने आया करते थे. खास बात यह है कि 20 अक्टूबर, 2005 में की गई कुंजीलाल की भविष्यवाणी को कई चैनल्स ने 24 घंटे तक लाइव किया था. उस समय कुंजीलाल पूरी दुनिया में मशहूर हो गए थे.

वहीं, कुंजीलाल की इसी कहानी पर बाद में उनके गांव सेहरा के करीबी गांव पिपला के नाम पर पीपली लाइव फिल्म भी बनाई गई थी. जिसमें कर्ज से परेशान किसान नत्था ने अपनी ही मौत की भविष्यवाणी की थी. इस फिल्म के सामने आने के बाद कुंजीलाल ने फिल्म की डायरेक्टर और निर्माता आमिर खान और अनुषा रिजवी को नोटिस भेजा था. हालांकि, इस नोटिस पर ज्यादा कुछ नही हो सका था.