MP: बीजेपी नेता गोपाल भार्गव का दीपिका पादुकोण पर विवादित बयान, कहा- मुंबई में करें...

नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव का दिल्ली के जेएनयू मामले को लेकर अभिनेत्री दीपिका पादुकोण पर विवादित बयान 

MP: बीजेपी नेता गोपाल भार्गव का दीपिका पादुकोण पर विवादित बयान, कहा- मुंबई में करें...
हीरोइन मुंबई में बैठकर अपना डांस करें

राम पाराशर/हरदा: मध्यप्रदेश ( Madhya Pradesh) के नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने दिल्ली के जेएनयू मामले को लेकर अभिनेत्री दीपिका पादुकोण पर विवादित बयान दिया है. उन्होंने कहा कि छात्रों को अपना काम करने दें और हीरोइन मुंबई में बैठकर अपना डांस करें.

दरअसल, अभिनेत्री दीपिका पादुकोण ने मंगलवार की शाम अचानक जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी पहुंचकर छात्रों का समर्थन किया था. हालांकि, इस दौरान  उन्होंने किसी प्रकरा का कोई बयान नहीं दिया था. वहीं, अब दीपिका के जेएनयू जाने के मामले को लेकर सियासत गरमा रही है. इस मामले को लेकर मध्यप्रदेश के नेता विपक्ष गोपाल भार्गव ने विवादित बयान दिया है. उन्होंने कहा कि पढ़ने लिखने वाले छात्रों के बीच में हीरो हीरोइनों का क्या काम, उन्हें अपना काम करने दें और हीरोइन मुंबई में बैठकर अपना डांस करें.

वहीं बीजेपी नेता गोपाल भार्गव के इस विवादित बयान पर कांग्रेस ने पलटवार किया है. कांग्रेस प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा ने ट्वीट कर लिखा कि ‘’नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव कह रहे है कि हीरोईनों को छात्रों के बीच नहीं जाना चाहिये, उन्हें तो मुंबई में बैठकर डांस करना चाहिये. कितना शर्मनाक है, उनको यह भी बताना चाहिए कि बीजेपी से जुड़ी फ़िल्म अभिनेत्री हेमा मालिनी, किरण खेर, स्मृति ईरानी को लेकर भी उनके यही विचार हैं क्या? जबकि सच्चाई यह है कि प्रदेश की पूर्व बीजेपी सरकार ने तो लाखों देकर अभिनेत्री हेमा मालिनी और उनकी पुत्री का भी नृत्य प्रदेश में विभिन्न आयोजनो में कराया, तब उनके यह विचार कहां थे ?’’

आपको बता दें कि नेता विपक्ष गोपाल भार्गव आज नागरिकता संशोधन बिल के समर्थन में बीजेपी कार्यकर्ताओं को संबोधित करने के लिए हरदा पहुंचे थे, इसी दौरान उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा था कि नागरिकता कानून के खिलाफ देशभर में जो बवाल हो रहा है, वो राष्ट्र विरोधी है. गोपाल भार्गव ने कहा कि 11 जनवरी को बीजेपी नए कानून के समर्थन में महारैली का आयोजन करेगी.

Zee MPCG से खास बातचीत में नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने आईफा अवॉर्ड को सरकारी पाप करार दिया. भार्गव ने कहा कि खाली खजाने का दुरुपयोग करने की बजाय इस बजट को किसान, मजदूर, कन्यादान योजना में बांट दिया जाए. इसी के साथ उन्होंने कांग्रेस के उस तर्क को भी हास्यास्पद बताया, जिसमें आईफा अवॉर्ड में चंद राशि खर्च होने और बड़ा रोजगार पैदा होने की बात कही गई थी.