प्रभारी सीएमओ पर लोकायुक्त की कार्रवाई जारी, चार ठिकानों पर छापा, 5.60 करोड़ की संपत्ति का खुलासा

वर्तमान समय में कुलदीप एक सहायक राजस्व निरीक्षक के पद पर है, लेकिन उसके पास कार्यभार प्रभारी सीएमओ का है. कुलदीप को नौकरी में 12 साल हो चुके हैं और इस नौकरी के दौरान करीब 22 लाख रुपये का वेतन मिला है. महज 22 लाख के वेतन में भी उसके पास से 5.60 करोड़ रुपये की संपत्ति मिल चुकी है. 

प्रभारी सीएमओ पर लोकायुक्त की कार्रवाई जारी, चार ठिकानों पर छापा, 5.60 करोड़ की संपत्ति का खुलासा
प्रभारी सीएमओ पर लोकायुक्त की कार्रवाई जारी

मनोज जैन/उज्जैन: मंगलवार को उज्जैन के बड़नगर नगर पालिका सीएमओ कुलदीप किंशुक पर लोकायुक्त ने बड़ी कार्रवाई की. जिसमें आय से अधिक संपत्ति होने के कारण कुलदीप किंशुक के चार ठिकानों पर  लोकायुक्त पुलिस ने छापा मारा है. लोकायुक्त की 40 सदस्य टीम कल से सीएमओ की प्रॉपर्टी की सर्चिंग कर रही है. इस कार्रवाई के दौरान उसके पास  5 करोड़ 60 लाख की प्रॉपर्टी होने की बात सामने आई है. 

आपको बता दें कि वर्तमान समय में कुलदीप एक सहायक राजस्व निरीक्षक के पद पर है, लेकिन उसके पास कार्यभार प्रभारी सीएमओ का है. कुलदीप को नौकरी में 12 साल हो चुके हैं और इस नौकरी के दौरान करीब 22 लाख रुपये का वेतन मिला है. महज 22 लाख के वेतन में भी उसके पास से 5.60 करोड़ रुपये की संपत्ति मिल चुकी है. 

ये भी पढ़ें-भोपाल के राजाभोग एयरपोर्ट से आज पहली उड़ान भरेगी कोलकाता की फ्लाइट,लखनऊ के लिए भी शुरू हुई सेवा

लोकायुक्त पुलिस निरीक्षक राजेंद्र वर्मा ने बताया कि उन्हें जून में कुलदीप किंशुक के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति होने की शिकायत मिली थी. जांच में पाया गया है कि कुलदीप और उसके संबंधित लोगों के खातों में एक करोड़ से ज्यादा रुपये हैं. जिसके बाद इस सभी के खातों से ट्रांजैक्शन पर रोक लगा दी गई है. 

Watch LIVE TV-