close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

आबकारी अधिकारी पर लोकायुक्त का शिकंजा, 21 लाख कैश समेत कई लग्जरी गाड़ियां बरामद

खरे की ज्यादातर पोस्टिंग मालवा क्षेत्र में ही रही है. खरगोन, रतलाम, धार, इंदौर और भोपाल में वो पदस्थ रहे है और इसी दौरान उन्होंने अकूट काली कमाई की. फिलहाल लोकायुक्त इस मामले में जांच कर रही है.

आबकारी अधिकारी पर लोकायुक्त का शिकंजा, 21 लाख कैश समेत कई लग्जरी गाड़ियां बरामद
पुलिस को भोपाल में उनकी 30 से ज्यादा प्रॉपर्टी की जानकारी मिली है.

भोपाल: मध्य प्रदेश ( Madhya Pradesh) में लोकायुक्त पुलिस ने सहायक आबकारी आयुक्त (Assistant Excise Officer) के ठिकानों पर छापेमारी की. इस दौरान पुलिस को करोड़ों की संपत्ति की जानकारी मिली है. आय से अधिक संपत्ति मामले में इंदौर (Indore), भोपाल (Bhopal), रायसेन (Raisen) और छतरपुर (Chhatarpur) में कार्रवाई की गई है. इंदौर में पदस्थ आबकारी विभाग के सहायक आयुक्त आलोक खरे के 5 ठिकानों पर छापेमारी की कार्रवाई जारी है.

Image preview

इंदौर में तैनात सहायक आयुक्त आलोक कुमार खरे के बारे में जानकारी मिली है कि उन्होंने ऑफिस में बैठने के लिए 85 हजार रुपये की कुर्सी मंगवायी थी. पुलिस को भोपाल में उनकी 30 से ज्यादा प्रॉपर्टी की जानकारी मिली है.

Image preview

बताया जा रहा है कि खरे की ज्यादातर पोस्टिंग मालवा क्षेत्र में ही रही है. खरगोन, रतलाम, धार, इंदौर और भोपाल में वो पदस्थ रहे है और इसी दौरान उन्होंने अकूट काली कमाई की. फिलहाल लोकायुक्त इस मामले में जांच कर रही है.

लाइव टीवी देखें

उनके गोल्डन सिटी स्थित बंगले की नापजोख की गई,  जिसके बाद उसकी कीमत का आकलन किया जाएगा. साथ ही लग्जरी गाड़ियों की भी जानकारी मिली है. लोकायुक्त पुलिस की जांच के दौरान रायसेन में करोड़ों की बेनामी संपत्ति का खुलासा हुआ है. रायसेन में 56 एकड़ जमीन में दो आलीशान फॉर्महाउस की जानकारी मिली है जबकि छतरपुर में आलोक कुमार खरे के पिता के घर पर छापेमार कार्रवाई चल रही है.