close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

भोपाल : BJP सांसद और विधायक का पार्षद पति ने रोका रास्ता, पार्टी ने लिया यह एक्शन

पार्षद का दावा था कि इस सड़क का वह भूमि पूजन पहले ही कर चुकी हैं और इसे दोबारा करने की जरूरत नहीं है, क्योंकि ये पार्षद कोटे से बनाई जा रही है.

भोपाल : BJP सांसद और विधायक का पार्षद पति ने रोका रास्ता, पार्टी ने लिया यह एक्शन
सांसद आलोक संजर और विधायक रामेश्वर शर्मा को रविवार को भूमि पूजन के दौरान पार्टी कार्यकर्ताओं के विरोध का समाना करना पड़ा था.

भोपाल : मध्य प्रदेश में बीजेपी के सांसद और विधायक का विरोध करना एक पार्षद को भारी पड़ा. भूमि पूजन के समय बीजेपी कार्यकर्ताओं में हुए टकराव को लेकर पार्टी इकाई ने पार्षद पति को पार्टी से निलंबित कर दिया है. भोपाल के कोलार इलाके में भूमि पूजन का श्रेय लेने को लेकर बीजेपी सांसद आलोक संजर के सामने पार्टी विधायक रामेश्वर शर्मा और इलाके की महिला पार्षद मनफूल मीणा के बीच रविवार को विवाद हो गया. इस कारण महिला पार्षद के पति श्याम मीणा ने सांसद एवं विधायक को इलाके में जाने से रोक दिया. घटना पर फौरन कार्रवाई करते हुए मध्य प्रदेश बीजेपी ने पार्षद पति श्याम मीणा को पार्टी से निलंबित कर दिया है.

मनफूल मीणा भोपाल नगर निगम की पार्षद है और घटना के वक्त विधायक एवं सांसद उसके इलाके की एक सड़क का भूमि पूजन करने जा रहे थे. पार्षद का दावा था कि इस सड़क का वह भूमि पूजन पहले ही कर चुकी हैं और इसे दोबारा करने की जरूरत नहीं है, क्योंकि ये मेरे पार्षद कोटे से बनाई जा रही है. इसी बीच, वहां खड़े मनफूल के पति श्याम मीणा और विधायक रामेश्वर शर्मा के बीच जमकर तू-तू मैं-मैं हुई थी.

मध्य प्रदेश बीजेपी प्रवक्ता रजनीश अग्रवाल ने बताया, ‘प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने इस मामले का वीडियो देखने के बाद श्याम मीणा को पार्टी से निलंबित कर दिया है. उसे सांसद एवं विधायक का रास्ता रोकने और अनुशासनहीनता के लिए निलंबित किया गया है.’

भोपालः सड़क भूमिपूजन में पहुंचे भाजपा सांसद, विधायक का कार्यकर्ताओं ने किया विरोध

समर्थकों में हुई थी झड़प
इस पूरे घटनाक्रम का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. वीडियो में विधायक रामेश्वर शर्मा और सांसद संजर का पार्षद पति विरोध कर रहे हैं. सांसद और विधायक के आने से पार्षद इतना गुस्सा हुए कि बात धक्का-मुक्की तक पहुंच गई. जिसके बाद दोनों के समर्थकों में हाथापाई की स्थिति बन गई. हालांकि, बाद में मामला संभल गया.