मध्य प्रदेशः तेंदूखेड़ा में 13 गायों की मौत, स्थानीय लोगों में रोष

कुछ ही घंटो में पूरे शहर के अलग-अलग हिस्सों से गायों की मौत की खबरें आने लगीं जिसके बाद पूरे क्षेत्र में सनसनी फैल गई.

मध्य प्रदेशः तेंदूखेड़ा में 13 गायों की मौत, स्थानीय लोगों में रोष
एक दिन में दर्जन भर से अधिक गायों की मौत
Play

दमोहः मध्य प्रदेश के दमोह जिले के तेंदूखेड़ा से एक बड़ी खबर है जहां रविवार की शाम से एक एक कर दर्जन भर गायों की मौत के बाद हड़कंप मचा हुआ है और लोगों में खासी दशहत देखने को मिल रही है. दरअसल, रविवार की शाम तेंदूखेड़ा के वार्ड क्रमांक 1 में एक गाय ने दम तोड़ा तो इसे साधारण मौत मानकर लोगों ने अनदेखा कर दिया, लेकिन कुछ ही घंटो में पूरे शहर के अलग-अलग हिस्सों से गायों की मौत की खबरें आने लगीं जिसके बाद पूरे क्षेत्र में सनसनी फैल गई.

झारखंड में बकरीद के अवसर पर गो हत्या रोकने गई पुलिस की टीम पर पथराव

एक दिन में 13 गायों की मौत
बता दें तेंदूखेड़ा में बीते रविवार की देर रात से एक दर्जन गायें मौत के मुंह में जा चुकी है जबकि दर्जन भर गायें बीमार हैं. जिस तरह से तड़प-तड़प कर गायों ने दम तोड़ा उससे इन गायों की मौतों के पीछे की वजह जहर बताया जा रहा है, लेकिन रहस्यमई तरीके से शहर के अलग-अलग क्षेत्रों और वार्डों में हो रही गायों की मौतें और तड़पते जानवरों को देख कर लोग इसे साजिश भी मान रहे हैं. बता दें अभी तक गायों की मौत के पीछे के कारण का पता नहीं चल सका है, लेकिन स्थानीय लोग इसे किसी की सोची-समझी साजिश बता रहे हैं.

राजस्थान: गायों की मौतों के बाद अब बीकानेर में बनेगी पहली गाय सेंचुरी, सरकार ने की भूमि आवंटित

कई गायें अब भी गंभीर
बता दें तेंदूखेड़ा में कुछ महीने पहले ही गर्मी के दिनों में एक निजी गौ शाला में भी एक ही दिन में दो दर्जन से ज्यादा गायें मौत का शिकार हुई थीं. लोगों ने एक एक कर मर रही गायों के मामले में पुलिस को सूचना दी तो तेंदूखेड़ा पुलिस भी पूरी रात ये पता लगाने की कोशिश करती रही की आखिर जानवरों की मौत की वजह क्या है. वहीं अब सोमवार को मृत तमाम गायों का पोस्टमार्टम कराया जाएगा और उसके बाद जो तथ्य सामने आएंगे पुलिस कार्यवाही का भरोसा दे रही है.