close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

देश का पांचवां प्रदूषित राज्य बना मध्य प्रदेश, सिंगरौली में हालात सबसे खतरनाक

मध्य प्रदेश देश का पांचवां सबसे प्रदूषित राज्य बन गया है. एयर पॉल्यूशन में मध्य प्रदेश ने रिकॉर्ड बनाते हुए पांचवे पायदान पर जगह बना ली है. ऐसे में आने वाले दिनों में स्थितियां और भी खतरनाक होती हुई दिखाई दे रही हैं.

देश का पांचवां प्रदूषित राज्य बना मध्य प्रदेश, सिंगरौली में हालात सबसे खतरनाक
(फाइल फोटो)

भोपालः दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण को लेकर जहां एक तरफ सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) ने हेल्थ इमरजेंसी (Health emergency) घोषित कर दी है तो वहीं मध्य प्रदेश में भी हवा की गुणवत्ता लगातार गिरती जा रही है. हालात यह है कि मध्य प्रदेश देश का पांचवा सबसे प्रदूषित राज्य बन गया है. एयर पॉल्यूशन (Pollution) में मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) ने रिकॉर्ड बनाते हुए पांचवें पायदान पर जगह बना ली है. ऐसे में आने वाले दिनों में स्थितियां और भी खतरनाक होती हुई दिखाई दे रही हैं. सिंगरौली (Singrauli) जिले का औसत एयर क्वालिटी इंडेक्स यानी एक्यूआई 289 पर पहुंच गया है, जबकि भोपाल का एक्यूआई औसत 167 रहा.

प्रदेश में ये स्थिति 1 नवंबर से बनी हुई है. जहां वाहनों से निकलने वाले धुएं से वायु में धूल के कणों की मौजूदगी सामान्य से अधिक दर्ज की गई है. पीसीबी के सर्वे में हमीदिया रोड पर आरएसपीएम 146 माइक्रोन प्रति एमक्यू और कोलार में 142 माइक्रोन प्रति एमक्यू मिला है. जबकि इसका मानक स्तर 100 माइक्रोन प्रति एमक्यू है.

देखें LIVE TV

MP: हाईकोर्ट ने इस मामले में भेजा कमलनाथ सरकार को नोटिस, 3 हफ्ते में मांगा जवाब

वहीं मध्य प्रदेश में सामने आ रही इन स्थतियों को देखते हुए जानकारों का कहना है कि अगर ऐसी ही स्थितियां बनी रहीं तो वह समय ज्यादा दूर नहीं है, जब प्रदेश में भी दिल्ली-एनसीआरी जैसे हालात निर्मित हो जाएंगे. ऐसे में जरूरत है कि सरकार इसकी तरफ ध्यान दे और लोगों को प्रदूषण और इससे होने वाले दुष्प्रभावों के प्रति जागरुक किया जाए.