मध्यप्रदेश: ग्वालियर में एससी-एसटी एक्ट पर भाजपा नेताओं का विरोध

दर्शनकारियों को रोकने के लिए बैठक स्थल से काफी दूर पुलिस ने बैरिकेटिंग कर रखी थी ताकि बैठक में हिस्सा लेने वाले पदाधिकारियों के अलावा अन्य कोई आगे तक पहुंच नहीं पाए.

मध्यप्रदेश: ग्वालियर में एससी-एसटी एक्ट पर भाजपा नेताओं का विरोध
फाइल फोटो

ग्वालियरः मध्य प्रदेश में जगह-जगह तमाम नेताओं के खिलाफ अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति (एससी-एसटी) अधिनियम को लेकर विरोध का दौर जारी है. रविवार को ग्वालियर में पार्टी की बैठक में हिस्सा लेने जा रहे भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेताओं को एससी-एसटी एक्ट को मूल रूप में लागू करने को लेकर भारी विरोध का सामना करना पड़ा. भाजपा की संभागीय स्तर की बैठक रविवार को ग्वालियर में हो रही है. इस बैठक से पहले एक्ट विरोधी लोग बैठक स्थल पर पहुंचे और एससी-एसटी एक्ट में किए गए संशोधन का विरोध किया. 

मध्यप्रदेश में कांग्रेस के पास सीएम शिवराज के खिलाफ न चेहरा और न ही आधार: प्रभात झा

संशोधन से नाराज लोगों ने प्रदर्शन किया
भाजपा नेताओं के खिलाफ नारेबाजी की. साथ ही बैठक में जाने वाले नेताओं को रोकने का प्रयास किया. प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए बैठक स्थल से काफी दूर पुलिस ने बैरिकेटिंग कर रखी थी ताकि बैठक में हिस्सा लेने वाले पदाधिकारियों के अलावा अन्य कोई आगे तक पहुंच नहीं पाए. अधिनियम में संशोधन से नाराज लोगों ने सांसद और भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा व सांसद अनूप मिश्रा के निवास पर प्रदर्शन किया. अनूप मिश्रा ने प्रदर्शनकारियों से बातचीत भी की.

SC/ST ACT : सवर्णों का भारत बंद आज, मध्‍यप्रदेश समेत देश के इन शहरों में दिख रहा सबसे ज्‍यादा असर

6 सितंबर को किया था भारत बंद का आह्वान
बता दें इससे पहले 6 सितंबर को एससी-एसटी एक्ट के विरोध में सवर्ण संगठन ने भारत बंद का आह्वान किया था. जिसे मध्य प्रदेश में अच्छा-खासा समर्थन मिला था. भारत बंद के दौरान न सिर्फ ग्वालियर बल्कि मध्य प्रदेश के सभी जिलों में एससी-एसटी एक्ट के विरोध में लोग सड़कों पर उतर आए थे.  ग्वालियर में सुरक्षा के खास इंतजाम करते हुए 1500 पुलिसकर्मी तैनात किये गए थे. जिले में संवेदनशील स्थानों पर 40 कैमरे और 100 फिक्स पिकेट लगाए गए थे. जिससे प्रदर्शनकारियों पर नजर रखी जा सके. (इनपुटः आईएएनएस से भी)