मंदसौर रेप केस: CM शिवराज सिंह ने किया ऐलान, आरोपी को होगी फांसी की सजा

मंदसौर में मासूम के साथ हुई रेप की घटना के बाद प्रदेश के मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आरोपी को फांसी की सजा दिलाने की बात कही है. 

मंदसौर रेप केस: CM शिवराज सिंह ने किया ऐलान, आरोपी को होगी फांसी की सजा
(फोटो साभार: ANI)

भोपाल: मंदसौर में मासूम के साथ हुई रेप की घटना के बाद प्रदेश के मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आरोपी को फांसी की सजा दिलाने की बात कही है. मंदसौर में सात साल की बच्‍ची के साथ किडनैप और रेप की घटना के बाद से प्रदेश में माहौल काफी गर्म है. गुरुवार को लोगों ने आरोपी को फांसी देने की मांग करते हुए बंद का ऐलान किया. बच्ची के साथ दुष्कर्म करने वाले आरोपी को पुलिस ने बुधवार रात गिरफ्तार कर लिया था. 

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि आरोपी को जल्द से जल्द सख्त सजा मिले, इसके लिए सरकार हरसंभव प्रयास करेगी. उन्होंने कहा कि ये घटना दरिंदगी की इंतेहां है, सरकार आरोपियों को जल्द से जल्द फांसी दिलाने की कोशिश करेगी. मंदसौर के बार एसोसिएशन ने आरोपी की पैरवी नहीं करने का भी फैसला लिया है. एसोसिएशन ने कहा बच्ची के पक्ष में 100 वकील नि:शुल्क पैरवी करेंगे. 

मंदसौर: 7 साल की बच्‍ची से हुई निर्भया के जैसी दरिंदगी, अस्‍पताल में निढाल पड़ी है मासूम

हैवानियत की हदें पार 
लगातार आ रही मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मासूम के शरीर पर जगह-जगह दांत के निशान मिले हैं. बच्‍ची के घाव इतने गहरे हैं कि डॉक्टरों को नेसोगेस्ट्रिक ट्यूब लगानी पड़ी. डॉक्टरों को बच्‍ची का ऑपरेशन करना पड़ा है और आंतों को काटकर बाहर एक रास्ता बनाकर प्राइवेट पार्ट्स को ऑपरेट किया गया है. मासूम के साथ हैवानियत की हदें पार कर उसके नाजुक अंगों को बुरी तरह से क्षतिग्रस्त किया गया है. गहरी चोटों की वजह से दो बार सर्जरी करनी पड़ी है. बच्ची की गर्दन पर गहरा घाव है जिसे हैवान इरफान ने चाकू से काट कर हत्या करने की नियत से किया था.

कमलनाथ ने मंदसौर रेप केस को बताया निंदनीय, बोले- 'महिला अपराध के मामले में देश में नंबर वन MP'

राज्य के इलाकों में हो रहा है प्रदर्शन 
शहर की जनता घटनाक्रम के बाद आक्रोशित है और लगातार शांतिपूर्वक प्रदर्शन कर है. गुरुवार को भी शहर में कई महिला संगठनों ने प्रदर्शन किया तो ग्रामीण इलाकों में और पड़ोस के जिले नीमच में इस घटना के विरोध में बंद का आह्वान किया गया. घटना के विरोध में गुरुवार को मंदसौर सहित पिपलियामंडी, दलौदा बंद रहा. वहीं शुक्रवार को सीतामऊ, सुवासरा, संजीत और शामगढ़ बंद रहे. बाल कल्याण समिति व निजी स्कूल एसोसिएशन ने सभी विद्यालयों को बच्चों के सुरक्षा के इंतजाम रखने के लिए पत्र लिखा है. निजी स्कूल एसोसिएशन अध्यक्ष रूपेश पारिख ने कहा शनिवार को सभी स्कूल बंद रहेंगे और संचालकों द्वारा प्रशासन को ज्ञापन सौंपा जाएगा. 

क्‍या है मामला
बता दें कि मंदसौर में मंगलवार को स्कूल से गायब हुई 7 साल की छात्रा के साथ दुष्कर्म की पुष्टि हुई है. पीड़ित मासूम के शरीर पर कई जगह चोट के निशान पाए गए थे. मासूम के चेहरे पर भी कई कट के निशान थे. जिसके बाद छात्रा को मंदसौर से इलाज के लिए इंदौर रेफर किया गया था. इंदौर में हुई जांच में बच्ची के साथ यौन हिंसा की पुष्टी की गई है. बता दें पुलिस को बच्ची 12 बजे करीब मंदसौर बस स्टैंड के पीछे लक्ष्मण दरवाजे के पास झाड़ियों में नाले के करीब बदहवास हालत में मिली थी. जिसके बाद बच्ची की हालत देखते हुए पुलिस सबसे पहले बच्ची को जिला अस्पताल लेकर पहुंची. जहां बच्ची की गंभीर हालत देखते हुए बच्ची को इंदौर के जिला अस्पताल के लिए रेफर किया गया था.