NRC और CAA पर गरमाई मध्य प्रदेश की सियासत, कांग्रेस 25 दिसंबर को करेगी पैदल मार्च

जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा ने बताया कि मुख्यमंत्री कमलनाथ के नेतृत्व में 25 दिसंबर को पैदल मार्च निकाला जाएगा.

NRC और CAA पर गरमाई मध्य प्रदेश की सियासत, कांग्रेस 25 दिसंबर को करेगी पैदल मार्च
कांग्रेस 25 दिसंबर को पूरे प्रदेश में पैदल मार्च करेगी.

भोपाल: NRC और नागरिकता संसोधन कानून (CAA) पर मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में राजनीति शुरू हो गई है. मध्यप्रदेश कांग्रेस (Madhya Pradesh Congress) ने NRC और CAA के विरोध में प्रदर्शन का ऐलान कर दिया है. कांग्रेस पूरे प्रदेश में पैदल मार्च करेगी.

मध्यप्रदेश सरकार के जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा (PC Sharma) ने बताया कि मुख्यमंत्री कमलनाथ (CM Kamal Nath) के नेतृत्व में 25 दिसंबर को पैदल मार्च निकाला जाएगा. भोपाल और पूरे मध्य प्रदेश के हजारों लोग और कांग्रेस कार्यकर्ता पैदल मार्च में शामिल होंगे. पीसी शर्मा ने कहा कि बाबा साहेब आंबेडकर के संविधान से छेड़छाड़ की गई है. संविधान से छेड़छाड़ बर्दाश्त नहीं की जाएगी. ये कांग्रेस पार्टी का मूल मंत्र है. साथ ही पीसी शर्मा ने भरोसा दिलाया कि अयोध्या फैसले के बाद जो शांति बनी थी वो शांति मध्य प्रदेश में बनी रहेगी.

उधर, मंत्री जीतू पटवारी (Jitu Patwari) ने कहा कि देश का संविधान मानवीय आधारों पर है, यह जाति और धर्म पर नहीं है. देश की परंपरा वसुधैव कुटुंबकम् की है, जिसमें पूरे विश्व को एक परिवार माना गया है. लेकिन, केंद्र सरकार के एक निर्णय से देश में लोग आंदोलन करने लगे हैं. जीतू पटवारी ने अपील करते हुए कहा कि मोदी जी लोगों को बांटों मत. जीतू पटवारी ने प्रदर्शनकारियों से भी अपील करते हुए कहा कि ये देश आपका है, इसके संपत्ति आपकी है, इसलिए आपको ध्यान रखना होगा. अगर किसी भी रूप में संपत्ति का नुकसान होता है तो आप अपने देश से प्यार नहीं करते.

वहीं मध्य प्रदेश में विपक्षी दल बीजेपी ने NRC और नागरिकता संसोधन कानून को लेकर कांग्रेस के प्रस्तावित पैदल मार्च पर निशाना साधा. पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) ने कहा कि एनआरसी के मामले में कांग्रेस सरकार खुद प्रदेश को अशांत बना रही है. खंडवा में कल क्या हुआ कौन यह दंगे भड़काने की साजिश कर रहा है. सत्ता पक्ष के MLA खुलेआम भीड़ इकट्ठे कर रहे हैं. मुख्यमंत्री उनको प्रोत्साहन दे रहें. शिवराज चौहान ने पूछा कि क्या मध्य प्रदेश को भी हिंसा की आग में झोंकना चाहते हैं. शिवराज ने कहा कि ऐसी गैर जिम्मेदार सरकार हमने नहीं देखी और इसलिए आज हमने ताकत के साथ प्रोटेस्ट किया है. एनआरसी का जो कानून है, वो संसद के दोनों सदनों ने पारित किया है उसको लागू करना ही होगा.

NRC और नागरिकता संसोधन कानून के विरोध में कांग्रेस के 25 दिसंबर को होने वाले पैदल मार्च पर पूर्व मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि कांग्रेस की हमेशा नीति रही है कि फूट डालो और राज करो. आज जिस विषय पर वो समझा नहीं पा रहे हैं, उस पर भ्रम फैला रहे हैं. कांग्रेसी पूरे देश में भ्रम की स्थिति निर्मित कर रही है.

नरोत्तम मिश्रा ने आरोप लगाया कि कांग्रेस का मूल उद्देश्य है कि देश में दंगे हों. कानून मुस्लिमों के विरोध में है ही नहीं. लेकिन ये आंदोलन करके ऐसे लोगों को संरक्षण देकर चाहते हैं कि प्रदेश में दंगे हों. नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि हिंदुस्तान में किसी मुस्लिम के खिलाफ ये कानून नहीं है. नरोत्तम मिश्रा ने निशाना साधते हुए कहा कि मुझे समझ नहीं आता कि पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान के मुसलमानों से कांग्रेस को क्या लेना देना है. कांग्रेस देश विरोधी ताकतों को संरक्षण क्यों देना चाहती हैं. कांग्रेस इसको स्पष्ट करे.

नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि अमित शाह और मोदी ने ऐसी दवाई डाली की बहुत सारे अफजल सड़कों पर दिखे.