कैसे ठीक होंगी MP की सड़कें, बजट की कमी के कारण पूरा नहीं हो पा रहा मरम्मत का काम

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में बारिश की वजह से खराब हुई सड़कों की रिपेयरिंग अब तक पूरी नहीं हो पाई है, जबकि डेडलाइन में केवल 6 दिन ही बचे हैं.

कैसे ठीक होंगी MP की सड़कें, बजट की कमी के कारण पूरा नहीं हो पा रहा मरम्मत का काम
(फाइल फोटो)

भोपालः मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में बारिश की वजह से खराब हुई सड़कों की रिपेयरिंग अब तक पूरी नहीं हो पाई है, जबकि डेडलाइन में केवल 6 दिन ही बचे हैं और इसकी मुख्य वजह है बजट की कमी. मिली जानकारी के मुताबिक, केंद्र की ओर से PWD को राशि नहीं मिलने की वजह से मरम्मत नहीं हो पा रही है. दरअसल, बारिश की वजह से प्रदेश की करीब 15 हजार किलोमीटर सड़कें खराब हुई हैं. इसे सुधारने के लिए 30 नवंबर तक की समयसीमा तय की गयी है.

बता दें मध्य प्रदेश की सड़कों की रिपेयरिंग के लिए करीब एक हजार एक सौ 88 करोड़ रुपये की जरूरत है, जिसमें से सिर्फ पैचवर्क के लिए ही 530 करोड़ रुपये की जरूरत है. जबकि पीडब्ल्यूडी के पास केवल 240 करोड़ रुपये ही हैं. जिसमें पैचवर्क का काम ही ठीक से नहीं किया जा सकता है, ऐसे में सवाल यह है कि बाकि का काम बिना बजट के कैसे पूरा किया जाएगा. 

ट्विटर से पार्टी का नाम और पद हटाने पर सिंधिया की सफाई, बोले- 'लोगों की सलाह पर किया ये काम'

मध्य प्रदेश सरकार को केंद्र की ओर से अभी तक सड़कों की मरम्मत के लिए राशि नहीं मिल पाई है. ऐसे में प्रदेश सरकार भी इस चिंता में है कि राज्य की सड़कों की हालत कैसे सुधारी जाए, क्योंकि सड़कों की खराब हालत के चलते प्रदेश में दुर्घटनाएं भी बढ़ी हैं. वहीं लोगों को आने-जाने में भी काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. मिनटों का रास्ता लोगों के लिए घंटों का बन गया है, जिससे अब जनता भी सरकार के खिलाफ खड़ी होने लगी है.