close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

मध्य प्रदेश: शिक्षा मंत्री ने घंटी बजाकर की 'स्कूल चले अभियान' की शुरुआत

स्कूल शिक्षा मंत्री प्रभुराम चौधरी ने बताया कि इस बार से बच्चों की ड्रेस के पैसे सीधे अकाउंट में डाले जा रहे हैं, जिससे वह खुद ड्रेस खरीद सकते हैं. 

मध्य प्रदेश: शिक्षा मंत्री ने घंटी बजाकर की 'स्कूल चले अभियान' की शुरुआत
जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा ने कहा कि अधिकारियों को भी अपने बच्चों को सरकारी स्कूलों में पढ़ाना चाहिए.

भोपाल: मध्य प्रदेश में स्कूल चलो अभियान की शुरुआत सोमवार से प्रदेश भर के स्कूलों में हुई है. शासकीय प्राथमिक शाला बेगमगंज की घंटी बजाकर स्कूल शिक्षा मंत्री प्रभुराम चौधरी ने स्कूल चले अभियान का शुभारंभ किया. भोपाल के टीटी नगर स्थित मॉडल स्कूल में सांकेतिक बेगमगंज की प्राथमिक शाला बनाई गई थी. जहां से उन्होंने शिक्षा प्राप्त की है. पहले दिन स्कूल आने वाले छात्रों को स्कूली शिक्षा मंत्री ने चंदन का तिलक लगाकर स्वागत किया. इस दौरान स्कूल शिक्षा मंत्री प्रभुराम चौधरी का छात्र-छात्राओं को साइकिल भी वितरित की.

इस मौके पर मंत्री प्रभुराम चौधरी ने कहा कि स्कूल चलो अभियान के तहत जो बच्चे स्कूल नही जा पा रहे हैं, हमारा प्रयास रहेगा वो बच्चे स्कूल जा सकें. भीषण गर्मी के कारण स्कूल खुलने का समय बदला गया था ताकि बच्चों को गर्मी के कारण परेशानी न हो. साथ ही मंत्री ने कहा कि स्कूलों में शिक्षा के साथ-साथ बच्चों की हॉबी को ध्यान में रखते हुए एक्टिविटीज कराना जरूरी है. उन्होंने कहा कि हमारा प्रयास रहेगा कि स्कूलों में शिक्षा की गुणवत्ता को बेहतर किया जाए. पिछले साल स्कूलों में ड्रेस- किताबें-साइकिल देरी से छात्रों को मिले थे लेकिन इस साल हम लोगों का प्रयास रहा है कि समय पर बच्चों को सभी चीजें उपलब्ध हो सकें. 

उन्होंने बताया कि इस बार से बच्चों की ड्रेस के पैसे सीधे अकाउंट में डाले जा रहे हैं, जिससे वह खुद ड्रेस खरीद सकते हैं. साथ ही जिन शिक्षकों ने स्कूलों में अच्छा रिजल्ट दिया उन्हें सम्मानित भी किया गया. स्कूल चलो अभियान के दौरान जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा ने कहा कि अधिकारियों को भी अपने बच्चों को सरकारी स्कूलों में पढ़ाना चाहिए. मुख्यमंत्री कमलनाथ ने सरकारी अस्पताल मे इलाज करवाकर ये बता दिया है कि अब इलाज और शिक्षा उनके नेतृत्व में अच्छी मिलेगी.