MP में बैलेट पेपर नहीं EVM से ही होंगे नगरीय निकाय चुनाव, EC ने खारिज की कांग्रेस की मांग

राज्य निर्वाचन आयोग की ओर से मतपत्रों की बजाए नगरीय निकाय चुनाव ईवीएम से कराने की मांग खारिज होने से कांग्रेस हमलावर हो गई है. कांग्रेस नेता जेपी धनोपिया ने आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा नगरीय निकाय चुनाव में धांधली करने की फिराक में है. 

MP में बैलेट पेपर नहीं EVM से ही होंगे नगरीय निकाय चुनाव, EC ने खारिज की कांग्रेस की मांग
सांकेतिक तस्वीर.

भोपालः मध्य प्रदेश में आगामी नगरीय निकाय चुनाव ईवीएम से कराए जाएंगे. राज्य निर्वाचन आयोग ने इस संबंध में अधिसूचना जारी कर दी. कांग्रेस पार्टी ने प्रदेश की सत्ता में रहते हुए राज्य निर्वाचन आयोग को पत्र लिखकर मांग की थी कि नगरीय निकाय चुनाव मतपत्रों से कराए जाएं. कांग्रेस की मांग खारिज करते हुए राज्य निर्वाचन आयोग ने नगरीय निकाय चुनाव ईवीएम मशीन से कराने का फैसला लिया है.

ब्रिटेन में मिले नए Covid स्ट्रेन को लेकर MP और CG अलर्ट पर, विदेश यात्रियों के लिए एडवाजरी जारी

भाजपा के दबाव में का कर रहा राज्य निर्वाचन आयोगः कांग्रेस
राज्य निर्वाचन आयोग की ओर से मतपत्रों की बजाए नगरीय निकाय चुनाव ईवीएम से कराने की मांग खारिज होने से कांग्रेस हमलावर हो गई है. कांग्रेस नेता जेपी धनोपिया ने आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा नगरीय निकाय चुनाव में धांधली करने की फिराक में है. इस बार वीवीपैट हटाया जा रहा है. उन्होंने आरोप लगाया कि राज्य निर्वाचन आयोग भी शिवराज सरकार के दबाव में काम कर रहा है. 

पंडवानी गायिका बनेंगी विद्या बालन, Big B सुनाएंगे कहानी, बड़े परदे पर तीजन बाई का 'संघर्ष' जल्द

कांग्रेस ने हार का ठीकरा फोड़ने का इंतजाम कर लिया हैः BJP
भाजपा प्रवक्ता रजनीश अग्रवाल ने कांग्रेस पर पलटवार करते हुए कहा कि उसे नगरीय निकाय चुनाव अपनी हार दिख रही है. इसीलिए हार का ठीकरा ईवीएम पर फोड़ने की तैयारी में कांग्रेस पार्टी जुट गई है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस को ईवीएम का रोना छोड़ अपनी नीति और नेता पर विचार करना चाहिए. आपको बता दें कि कांग्रेस नेताओं की ओर से अक्सर ही EVM की प्रमाणिकता पर सवाल खड़े किए जाते रहे हैं. 

MP के स्कूलों में इस साल Winter Vacation नहीं, मंत्री बोले- बहुत छुट्टी हुई, अब काम करने का वक्त

निकाय चुनाव के तारीखों का ऐलान 25 दिसंबर के बाद कभी भी
आपको बता दें कि मध्य प्रदेश में नगरीय निकाय चुनाव की तैयारियां अपने अंतिम चरण में हैं. राज्य निर्वाचन आयोग की ओर से 25 दिसंबर के बाद कभी भी चुनाव की तारीखों का ऐलान किया जा सकता है. इधर असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन एआईएमआईएम भी नगरीय निकाय चुनावों में अपने उम्मीदवार खड़े करने की तैयारी में है. इसके लिए पार्टी के पर्यवेक्षक मध्य प्रदेश के कई जिलों में इंटरनल सर्वे करा रहे हैं. एआईएमआईएम के कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष नईम अंसारी ने इसकी जानकारी दी है.

WATCH LIVE TV