MP चुनाव 2018: 'मिनी मुंबई' इंदौर से है स्‍वर कोकिला लता मंगेश्‍कर का गहरा कनेक्‍शन

मध्‍यप्रदेश में ऐसा बहुत कुछ ऐसा है तो इस राज्‍य को खास बनाता है. लेकिन क्‍या आप जानते हैं कि सुरसम्राज्ञी कहलाने वाली लता मंगेश्‍कर का भी इस राज्‍य से एक गहरा नाता है

MP चुनाव 2018: 'मिनी मुंबई' इंदौर से है स्‍वर कोकिला लता मंगेश्‍कर का गहरा कनेक्‍शन

नई दिल्‍ली: मध्‍यप्रदेश इन दिनों चुनावों के माहौल  में रंगा हुआ है. आज से भले ही चुनाव प्रचार का दौर थम गया हो लेकिन 'हिंदुस्‍तान का दिल' कहे जाने वाले इस राज्‍य में आखिर कौन इस बार सत्ता पर काबिज होता है, यह सवाल हर किसी के जहन में है. सांची के स्‍तूप से लेकर भोपाल के बड़े तलाब तक, और बाबा शिव की नगरी उज्‍जैन से लेकर भीमबेटका तक, मध्‍यप्रदेश में ऐसा बहुत कुछ ऐसा है तो इस राज्‍य को खास बनाता है. लेकिन क्‍या आप जानते हैं कि सुरसम्राज्ञी कहलाने वाली लता मंगेश्‍कर का भी इस राज्‍य से एक गहरा नाता है. जी हां, इस उम्र में भी अपने सुरों से हर किसी के दिल राज करने वालीं मराठी लता मंगेश्‍कर का जन्‍म महाराष्‍ट्र में नहीं बल्कि 'मिनी मुंबई' कहलाने वाले इंदौर में हुआ था.

सिख मोहल्‍ला, मकान नंबर 22.. 
इंदौर के सिख मोहल्‍ले का मकान नंबर 22.. यही वह पता है जहां 1929 में सुरकोकिला लता मंगेश्‍कर का जन्‍म हुआ था. हालांकि आज इंदौर के इस पते पर एक आलीशान कपड़ों का शॉरूम बन गया है. उस समय इंदौर में मराठी संस्‍कृति का बोलबाला था. लता मंगेश्‍कर अक्‍सर अपनी मौसी से मिलने इंदौर आया करती थीं. मालवा इलाके में मिलने वाली स्‍पेशल डिश दाल-बाफला लता दीदी को काफी ज्‍यादा पसंद है. वह जब भी इंदौर आतीं, तो दाल बाफले जरूर खातीं.


इंदौर लता जी के पसंदीदा शहरों में आज भी शुमार है, फोटो साभार: twitter@FilmHistoryPic

यहां बजते हैं बस लता दीदी के गाने
लता मंगेश्‍कर एक ऐसी गायिका हैं, जिन्‍होंने संगीत को कभी महज पेशे के तौर पर नहीं लिया, बल्कि यह उनके लिए एक साधना की तरह है. यहीं कारण है क‍ि वह रिकॉर्डिंग या रियाज के समय कभी चप्‍पल नहीं पहनतीं. लता जी के परिवार के इंदौर छोड़ने के बाद उनका घर एक मुस्लिम परिवार ने खरीद लिया. कुछ समय यह परिवार यहां रहा और फिर उसे बेच कर चला गया. इस समय यह घर मेहता परिवार के पास है, जिसने बाहरी हिस्‍से में कपड़े का शोरूम खोल लिया है. लेकिन यहां लता दीदी की याद अब भी है. इस शोरूम में आपको लता दीदी का एक म्‍यूरल (दीवार पर बनी कलाकृति ) भी नजर आएगा. यहां हर समय लता मंगेश्‍कर के ही गाने बजते हैं.


बाला साहब ठाकरे के साथ लता मंगेशकर, फोटो साभार: twitter @mangeshkarlata

सिंध बेकरी के हरीश मानते हैं लता को 'शहर की बेटी' 
इंदौर में लता मंगेश्‍कर का सिर्फ घर ही नहीं है, बल्कि इस शहर में आज भी कई लोग ऐसे हैं जो उन्‍हें इस शहर की बेटी मानते हैं. सिंध बेकरी चलाने वाले हरीश लखवानी लता दीदी की तस्‍वीर को हर दिल अगरबत्ती दिखाते हैं. वह पिछले कई सालों से लता जी का जन्‍मदिन मनाते आ रहे हैं. उनका कहना है कि वह शहर की बेटी हैं, जिन्‍होंने इंदौर का नाम दुनिया में चमकाया है.

मध्‍य प्रदेश में होने जा रहे चुनाव की बात करें तो विधानसभा चुनाव 2018 के लिए कांग्रेस, बीजेपी के उम्‍मीदवारों ने अपनी सारी कोशिशें कर ली हैं. चुनाव प्रचार पूरा हो चुका है और अब मध्‍य प्रदेश की कुल 230 सीटों के लिए हो रहे इस चुनाव में चुनावी योद्धा प्रदेश की जनता की तरफ टकटकी लगाए बैठे हैं. बता दें कि राज्य में 28 नवंबर को मतदान होगा और 11 दिसंबर को वोटों की गिनती होगी.