close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पोषण अभियान में मध्य प्रदेश को मिला पहला स्थान, छत्तीसगढ़ दूसरे नंबर पर

षण अभियान के ग्रुप-ए में आंगनबाड़ी केंद्रों में सॉफ्टवेयर के माध्यम से बच्चों की नियमित मॉनिटरिंग और आंगनबाड़ी केंद्रों में सतत सीख प्रक्रिया संबंधित दो श्रेणियों में छत्तीसगढ़ को देश में द्वितीय स्थान हासिल करने पर सम्मानित किया जाएगा.

पोषण अभियान में मध्य प्रदेश को मिला पहला स्थान, छत्तीसगढ़ दूसरे नंबर पर
दो श्रेणियों में छत्तीसगढ़ को देश में द्वितीय स्थान हासिल करने पर सम्मानित किया जाएगा.

नई दिल्लीः राष्ट्रीय पोषण मिशन में बेहर प्रदर्शन पर मध्य प्रदेश को पहला और छत्तीसगढ़ को दूसरा स्थान मिला है. आईसीडीएस और सीएएस इंप्लीमेंटेशन के तहत मध्य प्रदेश को 1 करोड़ का पुरस्कार दिया जाएगा और वहीं छत्तीसगढ़ को इस इस अभियान में दूसरा स्थान मिलने पर 50 लाख का पुरस्कार मिलेगा. इसके साथ छत्तीसगढ़ को राष्ट्रीय पुरस्कार से भी नवाजा जाएगा. छत्तीसगढ़ ने पोषण अभियान की दो अलग-अलग श्रेणियों में पूरे देश में दूसरा स्थान हासिल किया है, जिसके लिए राज्य सरकार को 50-50 लाख रुपये और प्रशस्ति पत्र दिए जाएंगे, साथ ही दुर्ग को राज्य का श्रेष्ठ जिला चुना गया है.

बता दें नई दिल्ली के अशोक होटल में आज मतलब शुक्रवार को यह पुरस्कार छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश को पुरस्कार दिया जाएगा. यह पुरस्कार केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्रालय की तरफ से दिया जाता है, जिसके लिए महिला बाल विकास मंत्री स्मृति जुबिन ईरानी पोषण अभियान अवार्ड्स 2019 कार्यक्रम में पहुचीं हैं. जहां वह दोनों राज्यों को पोषण अवॉर्ड से सम्मानित करेंगी. इस कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ को राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा.

देखें लाइव टीवी

दबंगों की मनमानी से बेघर हुआ परिवार, रोटी-रोटी को मोहताज ग्रामीण ने सरकार से लगाई मदद की गुहार

बता दें छत्तीसगढ़ को 2 अलग-अलग श्रेणियों के तहत राष्ट्रीय पुरस्कार से नवाजा जाएगा. पोषण अभियान के ग्रुप-ए में आंगनबाड़ी केंद्रों में सॉफ्टवेयर के माध्यम से बच्चों की नियमित मॉनिटरिंग और आंगनबाड़ी केंद्रों में सतत सीख प्रक्रिया संबंधित दो श्रेणियों में छत्तीसगढ़ को देश में द्वितीय स्थान हासिल करने पर सम्मानित किया जाएगा. दुर्ग जिले को राष्ट्रीय स्तर पर श्रेष्ठ जिला और करतला (कोरबा) को श्रेष्ठ विकासखंड के रूप में चुना गया है.