close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

छतरपुर की प्रज्ञा पालीवाल की थाईलैंड में मौत, शव लाने के लिए परिवार ने सरकार से मांगी मदद

प्रज्ञा के शव को भारत लाने के लिए परिवार ने विदेश मंत्रालय से मदद मांगी है. मध्यप्रदेश के छतरपुर की रहने वाली प्रज्ञा बैंगलुरु की एक कंपनी में काम करती थी.

छतरपुर की प्रज्ञा पालीवाल की थाईलैंड में मौत, शव लाने के लिए परिवार ने सरकार से मांगी मदद
मध्य प्रदेश के छतरपुर की रहने वाली थी प्रज्ञा पालीवाल

विवेक शुक्ला, मंदसौर/नई दिल्लीः थाईलैंड में एक कॉन्फ्रेंस में शामिल होने गई मध्यप्रदेश की प्रज्ञा पालीवाल की फुकेट में मौत हो गई. बताया यह जा रहा है कि कार एक्सीडेंट में प्रज्ञा की मौत हुई. इस खबर के बाद से परिवार में कोहराम मच गया है. वहीं प्रज्ञा के शव को भारत लाने के लिए परिवार ने विदेश मंत्रालय से मदद मांगी है. मध्यप्रदेश के छतरपुर की रहने वाली प्रज्ञा बैंगलुरु की एक कंपनी में काम करती थी. कंपनी की तरफ से प्रज्ञा पालीवाल को ट्रेनिंग के लिए थाईलैंड भेजा गया था.

बताया जा रहा है कि मंगलवार को फुकेट में प्रज्ञा की कार एक्सीडेंट में मौत हो गई. हादसे की सूचना बुधवार को मृतका के मित्र ने उसके परिजनों को दी . इस घटना के बाद परिवार ने छतरपुर से कांग्रेस विधायक आलोक चतु्र्वेदी से  मदद मांगी. जिसके बाद विधायक आलोक चतुर्वेदी ने ट्वीट करके पीएमओ और विदेश मंत्रालय से मदद मांगी. घटना को करीब दो दिन बीत गए है चूंकि परिवार में किसी भी सदस्य के पास पासपोर्ट नहीं है लिहाजा परिजन सिर्फ सरकार से ही आस लगाए बैठे है. 

देखें LIVE TV

बिक्रम सिंह मजीठिया के काफिले की पायलट कार की ट्रक से भिड़ंत, 1 जवान की मौत, 4 घायल

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भी प्रज्ञा पालीवाल की मौत पर शोक जाहिर करते हुए ट्वीट किया है. 'प्रदेश के छतरपुर की बेटी प्रज्ञा पालीवाल के ट्रेनिंग के दौरान थाईलैंड के फूकेट शहर में हादसे में हुई मौत की ख़बर बेहद दुःखद. परिवार के किसी सदस्य के पास पासपोर्ट नहीं, पार्थिव शरीर लाने में दिक्कत हो रही है. परिवार परेशान ना हो, सरकार आपके साथ है. हर संभव मदद के निर्देश दे दिए गए हैं. विदेश मंत्रालय से सरकार चर्चा कर शव लाने का प्रयास करेगी. परिवार के सदस्य जाना चाहे तो उसका भी सरकार पूरा इंतजाम करेगी.'

CM कमलनाथ आज करेंगे झाबुआ उपचुनाव में प्रचार का शंखनाद, पढ़ें मिनट टू मिनट कार्यक्रम

मृतका का भाई घटना के बाद दिल्ली रवाना हो गया है और थाईलैंड जाने के लिए जरुरी दस्तावेजों को पूरा कर रहा है. इधर परिवार और विधायक की तरफ से मदद मांगे जाने के बाद भारत का विदेश मंत्रालय लगातार थाईलैंड में भारतीय दूतावास से संपर्क में है. इस घटना पर विदेश मंत्री एस जयशंकर ने दुख जताया है और ट्वीट कर कहा है कि थाईलैंड का भारतीय दूतावास परिजनों के संपर्क में है ,सरकार प्रज्ञा के परिजनों के साथ है.