close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

ग्वालियरः रेप पीड़िता पर बना रहे थे 'राजीनामे' का दबाव, परेशान होकर दे दी जान

मृतका के परिजनों ने आरोपी और उसके परिजनों को उसकी मौत का जिम्मेदार ठहराया है. मृतका के परिजनों का आरोप है कि, आरोपी और उसके परिवार की धमकियों से युवती इतनी परेशान हो गई थी कि उसने अपनी जान ही दे दी.

ग्वालियरः रेप पीड़िता पर बना रहे थे 'राजीनामे' का दबाव, परेशान होकर दे दी जान
(प्रतीकात्मक तस्वीर)

ग्वालियरः मध्य प्रदेश के ग्वालियर में एक दुष्कर्म पीड़िता ने फांसी लगाकर अपनी जान दे दी. मृतका के परिजनों का आरोप है कि आरोपी युवक के परिजन पिछले 2 महीने से पीड़िता को धमका रहे थे और लगातार उस पर राजीनामे का दबाव बना रहे थे, जिससे पीड़िता काफी परेशान चल रही थी. आरोपी की मां शुक्रवार शाम को भी पीड़िता के घर आई और उसे और उसके परिवार को जान से मारने की धमकी देने लगी. इससे परेशान युवती ने शनिवार दोपहर को फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली.

मृतका के परिजनों ने आरोपी और उसके परिजनों को उसकी मौत का जिम्मेदार ठहराया है. मृतका के परिजनों का आरोप है कि, आरोपी और उसके परिवार की धमकियों से युवती इतनी परेशान हो गई थी कि उसने अपनी जान ही दे दी. घटना ग्वालियर के जनकगंज इलाके की है, जहां पुलिस ने मर्ग कायम कर लिया है और मामले की जांच शुरू कर दी है.

देखें VIDEO

बता दें कि ग्वालियर के जनकगंज इलाके की रहने वाली एक युवती के साथ उस्मान खान निवासी घोसीपुरा ने दुष्कर्म किया था. जिसके बाद युवती ने जून में जनकगंज थाने में मामले पर एफआईआर दर्ज कराई थी. इसके बाद जनकगंज थाना पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था. इस पर आरोपी के परिजनों ने युवती और उसके परिजनों को धमकाना शुरू कर दिया और पीड़िता पर राजीनामें का दबाव बनाने लगे.

रतलाम में अब सरकारी स्कूलों में होगी LED टीवी से पढ़ाई, टीचर्स की कमी के चलते लिया फैसला

आरोपी की मां ने 20 अगस्त को भी युवती को यह कहकर धमकाया कि अगर राजीनामा नहीं किया तो जान से मरवा देगी. इस मामले में जनकगंज थाने में पीड़िता ने शिकायती आवेदन भी दिया था. मामले में 18 अक्टूबर को फिर से कोर्ट में पेशी थी, जिसके चलते शुक्रवार शाम को उस्मान की मां उसके घर पहुंची और यहां युवती और उसके परिजनों को धमकाने लगी. जिससे पीड़िता बुरी तरह से परेशान हो गई और शनिवार दोपहर में उसने खाना खाने के बाद कमरे में जाकर फांसी लगा ली.