close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

होशंगाबाद स्टेशन में सिंगल यूज पॉलीथिन बंद, कागज के दोनों में मिल रहे समोसे और कचौड़ी

स्टेशन की कैंटीन से सिंगल यूज पॉलीथिन गायब हो गई. यात्रियो को चाय कागज के कपो में दी जा रही है और समोसे, आलूबड़े सहित नाश्ता सामग्री कागज के दोनों में दी जा रही है. 

होशंगाबाद स्टेशन में सिंगल यूज पॉलीथिन बंद, कागज के दोनों में मिल रहे समोसे और कचौड़ी

पीतांबर जोशी/होशंगाबाद: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वच्छता पखवाड़े में भोपाल रेल मंडल का होशंगाबाद रेलवे स्टेशन सिरमौर बनेगा. पश्चिम मध्य रेल ने होशंगाबाद रेलवे स्टेशन को सिंगल यूज पॉलिथीन मुक्त कर मॉडल बनाने का निर्णय लिया है. जिसके तहत दो अक्टूबर को स्टेशन को पॉलीथिन मुक्त होना है, लेकिन रेलवे ने इसे अभी से ही पॉलिथीन मुक्त कर दिया है. स्टेशन की कैंटीन से सिंगल यूज पॉलीथिन गायब हो गई. यात्रियो को चाय कागज के कपो में दी जा रही है और समोसे, आलूबड़े सहित नाश्ता सामग्री कागज के दोनों में दी जा रही है. 20 सितंबर से 30 सितंबर तक चलाये जा रहे स्वच्छता पखवाड़े ने स्टेशन को चकाचक कर दिया है. 

मुंबई-दिल्ली रेल मार्ग का यह होशंगाबाद स्टेशन है. इसे मॉडल स्टेशन का खिताब पहले ही मिल चुका है. अब इसे प्रधानमंत्री मोदी स्वच्छता अभियान के लिए चयन किया है. इसके बाद से यंहा सिंगल यूज पॉलीथिन को प्रतिबंधित करने की तैयारी चल रही है. 2 अक्टूबर से स्टेशन पर सिंगल यूज की पॉलीथिन प्रतिबंधित हो जाएगी, लेकिन यहां अभी से पॉलीथिन को बाय-बाय कर दिया गया है. कैंटीन में कागज में खाद्य सामग्री दी जा रही है. साफ सफाई को लेकर युद्ध स्तर पर काम किया जा रहा है.

देेखें LIVE TV

वहीं रेल्वे स्टेशन पर कैंटीन में काम करने वाले अहमद खान ने बताया की स्टेशन पर समोसे देने के लिए कागज के दोनों का उपयोग किया जा रहा है. वहीं लोगों के पॉलीथिन मांगने पर हम उनसे पॉलीथिन का उपयोग नहीं करने की समझाइश दे रहे हैं. करीब 15 दिनों से यह काम किया जा रहा है. वहीं यात्री अजय सिंह तोमर के मुताबिक स्टेशन का नजारा कुछ अलग ही देखने को मिला है. स्वच्छ भारत अभियान के तहत पॉलीथिन मुक्त करने का विचार चल रहा है. होशंगाबाद को देखकर ऐसा लग रहा है की बहुत ही अच्छी शुरुआत हो रही है.

सीएम कमलनाथ ने रखी भोपाल मेट्रो की आधारशीला, नाम को लेकर कांग्रेसी भूले अनुशासन

वहीं प्लेटफॉर्म पर भी कहीं भी पॉलीथिन देखने को नहीं मिली है. यह पहल काफी सराहनीय है. वहीं स्टेशन प्रबंधक हरीश कुमार तिवारी ने बताया की रेल प्रशासन की ओर से स्वछता पखवाड़े का आयोजन किया जा रहा है, जिसके तहत अलग-अलग स्तर पर अलग-अलग बिंदुओं को ध्यान में रखकर सफाई की जा रही है. वहीं विशेष रूप से होशंगाबाद स्टेशन के लिए आदेश प्राप्त हुए हैं कि इसे सिंगल यूज पॉलीथिन फ्री स्टेशन घोषित किया जाए. इसके लिए पूरा काम कर लिया गया है. वहीं स्टॉलों पर भी कागज के दोनों का उपयोग किया जा रहा है.