close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

झाबुआ उपचुनाव के लिए वोटिंग जारी, अब तक 27 प्रतिशत मतदान

झाबुआ विधानसभा उपचुनाव (Jhabua Assembly By-Elections) के लिए सुबह 7 बजे से मतदान शुरू हो चुका है कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच चुनाव आयोग के निर्देश का पालन करते हुए हर मतदान केंद्र पर मतदान हो रहा है.

झाबुआ उपचुनाव के लिए वोटिंग जारी, अब तक 27 प्रतिशत मतदान

झाबुआः मध्य प्रदेश की झाबुआ विधानसभा उपचुनाव (Jhabua Assembly By-Elections) के लिए सुबह 7 बजे से मतदान शुरू हो चुका है कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच चुनाव आयोग के निर्देश का पालन करते हुए हर मतदान केंद्र पर मतदान हो रहा है. पहले पांच घंटों में 12 बजे तक 26.76 फीसदी मतदाता मतदान कर चुके थे. यहां मुख्य मुकाबला भाजपा के भानु भूरिया और कांग्रेस के कांतिलाल भूरिया के बीच है. आधिकारिक तौर पर दी गई जानकारी के अनुसार, झाबुआ के उपचुनाव में सुबह सात बजे मतदान का दौर शुरू हुआ. कई मतदान केंद्रों पर सुबह से ही कतारें लग गई थी. मतदान शाम पांच बजे तक होगा. कई मतदान केंद्रों में रफ्तार काफी तेज है, दोपहर 12 बजे तक 26.76 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया.

चुनाव आयोग के निर्देशानुसार, डेढ़ घंटे पहले मतलब सुबह साढ़े पांच बजे मोकपोल किया गया. मतदान की सेक्टर अधिकारी सहित अन्य अधिकारी सतत मॉनीटरिंग कर रहे हैं. जिले में चार सीआईएसएफ की कंपनी संवेदनशील मतदान केन्द्रों पर तैनात की किए गए हैं, वहीं एसएएफ की चार कंपनी के जवान एवं अन्य जिलों से आए 600 पुलिस कर्मी मतदान केन्द्रों पर तैनात किए गए हैं.

झाबुआ विधानसभा उपचुनाव में अपनी किस्मत आजमा रहे कांतिलाल भूरिया ने अपनी पत्नी के साथ वोट डाला. लंबे समय से राजनीति कर रहे कांतिलाल ने वोटिंग करने के बाद अपनी जीत का दावा किया. कांतिलाल ने कहा कि कमलनाथ सरकार ने 9 महीने में अपनी नीति और नीयत बता दी. जिस पर झाबुआ की जनता जरूर भरोसा करेगी.

देखें LIVE TV

सुबह मतदान केंद्र पर मतदाताओं की संख्या काफी कम दिखाई दी है. यहां के स्थानीय मुद्दे खासकर बेरोजगारी और रोजगार की तलाश में लोगों का पलायन चुनाव में महत्वपूर्ण भूमिका में रहेंगे. 

हिंदूवादी नेता उपदेश राणा को मिली धमकी, '1 महीने में तेरा भी हाल कमलेश तिवारी जैसा होगा'

आदिवासी विधानसभा सीट झाबुआ (Jhabua) सीट के लिए आज तीन लाख के करीब मतदाता अपनी पसंद के उम्मीदवार का भविष्य को ईवीएम में कैद कर देंगे, वहीं चुनाव को शांतिपूर्ण तरीके से निपटाने के लिए चुनाव आयोग ने भी कड़े इंतजाम किए है. 

प्याज के बाद अब लोगों ने लूटे टमाटर, ग्रामीणों के साथ राहगीरों ने भी साफ किए हाथ

झाबुआ विधानसभा सीट पर इस बार मध्‍य प्रदेश की सत्‍तारूढ़ कांग्रेस से कांतिलाल भूरिया (Kantilal Bhuria) और भारतीय जनता पार्टी से युवा नेता भानू भूरिया (Bhanu Bhuria) पर मैदान में हैं. हालांकि, झाबुआ विधानसभा सीट पर जीत किसकी होगी, इसका पता तो 24 अक्टूबर को ही चल सकेगा, लेकिन इन सब के बीच उम्मीदवारों की सांसें ईवीएम के नतीजों पर अटकी हैं.