close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

खेतों में खड़ी करवा दी हाथी की मूर्ति, फसलों को बचाने के लिए अपनाया अनोखा आइडिया

गांववालों को विश्वास है कि यह मूर्ति हाथियों के झुंड से उनके गांव की रक्षा करेगी.

खेतों में खड़ी करवा दी हाथी की मूर्ति, फसलों को बचाने के लिए अपनाया अनोखा आइडिया
खेत में स्थापित करवाई गई गजरात की मूर्ति. (फोटो: ANI)

महासमुंद: छत्तीसगढ़ में महासमुंद जिले के एक गांव में हाथियों से फसलों को बचाने के लिए गजराज की मूर्ति स्थापित करने का एक अनोखा मामला सामने आया है. स्थानीय लोगों को उम्मीद है कि फसलों की बर्बादी को रोकने के लिए यह नया तरीका कारगर साबित होगा.

जिले के कुकराडीह गांव के किसानों ने बताया कि उन्होंने भगवान गणेश की प्रार्थना में गजराज की मूर्ति की स्थापना करवाई है. ग्रामीणों को विश्वास है कि हाथियों के झुंडों से गजराज उनकी फसल और गांव की जरूर रक्षा करेंगे.

न्यूज एजेंसी एएनआई से इस मामले को लेकर फॉरेस्ट ऑफिसर मयंक पांडे ने कहा कि वन विभाग ग्रामीणों के विश्वास का सम्मान करता है. हमारी प्राथमिकता यह सुनिश्चित करना है कि फसलों का विनाश न हो.

दरअसल, महासमुंद इलाके के किसान हाथियों के आतंक को लेकर कई सालों से परेशान चल रहे हैं. पिछले मंगलवार को ही हाथियों ने गोमर्डा अभयारण्य से वापस लौटकर खरनियाबाहाल के किसानों की आठ एकड़ और सोमवार को ग्राम कलेंडा के 13 किसानों की करीब 11 एकड़ धान की फसल को तहस-नहस कर दिया. इलाके में हाथियों के कारण किसानों का तकरीबन 35 एकड़ फसल बर्बाद हो चुकी है. हालांकि अभी तक कहीं भी कोई जनहानि नहीं हुई है. करीब तीन-चार दिन बाद हाथियों के फिर इस इलाके में दोबारा आने से किसानों में दहशत का माहौल है.