MP: मकर संक्रांति पर्व पर क्षिप्रा नदी में श्रद्धालुओं ने लगाई आस्था की डुबकी

उज्जैन प्रशासन द्वारा क्षिप्रा नदी में क्षिप्रा-नर्मदा लिंक योजना के माध्यम से नर्मदा का जल लाया गया था.

MP: मकर संक्रांति पर्व पर क्षिप्रा नदी में श्रद्धालुओं ने लगाई आस्था की डुबकी

उज्जैन: मकर संक्रांति पर्व यानी आज क्षिप्रा नदी में श्रद्धालुओं ने अल सुबह आस्था की डुबकी लगाई और पर्व स्नान किया. आमजन की आस्था के आगे ठंड का असर भी कम दिखाई दिया. दूर-दूर से आये श्रद्धालुओं ने पर्व स्नान के बाद दान पुण्य किया. प्रशासन ने आज के स्नान के लिए काफी तैयारियां की थीं.

मकर संक्रांति के मौके पर मध्य प्रदेश के उज्जैन की क्षिप्रा नदी के तट पर श्रद्धालुओं की भारी भीड़ देखने को मिली. इस मौके पर प्रदेश के साथ ही देश के अलग-अलग हिस्सों से उज्जैन पहुंचे श्रद्धालुओं ने क्षिप्रा नदी में डुबकी लगाई. श्रद्धालुओं ने सूर्य देव को अर्घ्य दिया और दान कर पुण्य लाभ अर्जित किया. 

पर्व नहान के लिए प्रशासन ने भी काफी तैयारियां की थीं. प्रशासन द्वारा क्षिप्रा नदी में क्षिप्रा-नर्मदा लिंक योजना के माध्यम से नर्मदा का जल लाया गया था. माना जाता है कि आज के दिन सूर्य नारायण दक्षिणायन से उत्तरायण की और आते हैं. कहा जाता है कि आज से तिल-तिल कर दिन बढ़ने लगते हैं. आज के दिन जो भी दान किया जाता है, वह तिल के दाने से बड़ा महत्त्व पुण्य माना गया है. आज के दिन क्षिप्रा में नहान करने और तिल का दान करने से रोग दोष पीड़ा निवारण होते हैं. तिल का दान करने से पितरों को भी मोक्ष प्राप्ति होती है.