अपनी बहू पर ही रखता था गंदी नजर, हुआ कुछ ऐसा, बेटे ने दी ऐसी मौत, देखकर रूह कांप जाएगी

जबलपुर में एक बेटे ने अपने पिता और अपनी पत्नी को आपतिजनक हालत में देख लिया था. जिसकी वजह से उसने अपने पिता की हत्या कर दी. कोई पहचान ना पाए इसलिए शव को आग लगा दी.

अपनी बहू पर ही रखता था गंदी नजर, हुआ कुछ ऐसा, बेटे ने दी ऐसी मौत, देखकर रूह कांप जाएगी
फाइल फोटो

कर्ण मिश्रा/जबलपुर: मध्य प्रदेश के जबलपुर से रिश्तों को तार-तार कर देने वाला एक मामला सामने आया है. जहां एक बेटे ने अपने ही पिता को मौत के घाट उतार दिया. कहा जा रहा है कि उसने पिता को अपनी बीवी के साथ आपत्तिजनक हालत में देख लिया था. जिसके बाद उसने इस वारदात को अंजाम दिया.

ये सनसनीखेज मामला जिले के बरगी थाना क्षेत्र का है. मिली जानकारी के मुताबिक बरगी पुलिस को 28 मार्च को गढ़ गोरखपुर बीट के जंगलों में एक शव अधजला पड़ा मिला था. पुलिस को आशंका थी कि शख्स की हत्या कर उसकी पहचान छुपाने के उद्देश्य से शव को जला दिया गया है. इस अंधे हत्याकांड का खुलासा करने पुलिस कप्तान द्वारा अलग-अलग टीमों का गठन किया गया. 

ये भी पढ़ें-लव जिहादः नाबालिग युवती को हिंदू बनकर फंसाया, 4 माह तक करता रहा शोषण, पत्नी और मां भी थीं साजिश में शामिल

देहात थाना समेत सिवनी पुलिस से भी इस मामले में पूछताछ की गई. जिसके बाद पता चला कि शव सिवनी जिले के घुंसोर स्थित ग्राम बरोदा माल में 52 वर्षीय शैल पटेल का है. जिनकी गुमशुदगी की शिकायत भी करवाई गई थी.बरगी पुलिस तत्काल परिजनों के पास पहुंची और पूछताछ शुरू की. 

बेटे ने ही रची पिता की हत्या की साजिश
मृतक की पत्नी रमाबाई ने पुलिस को बताया कि 26 मार्च को शैल कुमार पटेल को आयुष शर्मा और मनोज नाम के दो युवक अपने साथ मोटरसाइकिल पर बैठा कर ले गए थे. तब से वह घर नहीं लौटे. ये जानने के बाद पुलिस ने आयुष शर्मा और मनोज की सरगर्मी से तलाश शुरू की. इस बीच दोनों को अभिरक्षा में लेकर जब पूछताछ की गई तो चौंकाने वाला खुलासा हुआ. आरोपियों ने बताया कि शैल पटेल के बेटे प्रमोद पटेल ने ही अपने पिता की हत्या की साजिश रची है. प्रमोद ने मनोज और आयुष को अपने पिता के कत्ल के एवज में 50 हजार रुपये देने की बात कही थी और एडवांस में 15 हजार रुपये भी दिए थे. 

ये भी पढ़ें-दुर्ग में कोरोना से बेकाबू हुए हालात! लाशों के अंतिम संस्कार के लिए मुक्तिधाम में नहीं मिल रही जगह

ऐसे उतारा मौत के घाट
आरोपियों ने बताया कि उन्होंने पहले मृतक को मोटरसाइकिल पर बैठाया और फिर बातों में उलझा कर घंसौर चौक ले गए. जहां से उन्होंने शैल को एक कार में बैठाया और कार में ही गला घोंट कर उनकी हत्या कर दी. किसी को पता ना चले इसके लिए आरोपियों ने जंगल की ओर जाने वाले कच्चे रास्ते में मृतक शैल पटेल का शव फेका और आसपास की झाड़ियों को इकट्ठा कर शव को आग लगा दी.

इस वजह से की हत्या
पुलिस ने इस मामले में मुख्य आरोपी प्रमोद पटेल समेत अन्य आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस ने जब मृतक के बेटे प्रमोद पटेल से पूछताछ की तब इस हत्या के पीछे की वजह सामने निकल कर आई. प्रमोद ने बताया कि उसने अपनी पत्नी को पिता के साथ आपतिजनक हालत में देख लिया था. जिसकी वजह से उसने अपने पिता की हत्या कर दी. 

Watch LIVE TV-