close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

MP: युवक ने कर्जा चुकाने के लिए रची अपने अपहरण की साजिश, कर दी ये गलती

ओरछा के गंज मोहल्ला निवासी पुष्पेन्द्र यादव का 28 सितम्बर को झांसी छतरपुर हाईवे पर स्थित ओरछा तिराहे से अपहरण हुआ था.

MP: युवक ने कर्जा चुकाने के लिए रची अपने अपहरण की साजिश, कर दी ये गलती
पुलिस ने ढाबे के सामने उत्तर प्रदेश के झांसी जिले के ग्राम बिजौली से आरोपी मोनू यादव एवं नीतेश यादव को गिरफ्तार कर लिया.

आरबी सिंह परमार/निवाड़ी: मध्य प्रदेश के निवाड़ी जिले में कर्ज से परेशान एक युवक ने खुद के अपरहण की ही साजिश रच डाली. युवक ने अपने सगे भाई से फिरौती की रकम में 5 लाख रूपये की मांग की. बताया जा रहा है कि युवक ने अपने दोस्तों के साथ मिलकर घटना को अंजाम दिया. साइबर सेल की मदद से पुलिस ने युवक को पकड़कर घटना का खुलासा किया. पकड़े गए युवकों के पास से दो अवैध हथियारों सहित घटना में प्रयुक्त मोबाइल जब्त किया गया है. घटना में शामिल आरोपियों में से दो उत्तर प्रदेश के रहने वाले युवक हैं.

दरअसल, ओरछा के गंज मोहल्ला निवासी पुष्पेन्द्र यादव का 28 सितम्बर को झांसी छतरपुर हाईवे पर स्थित ओरछा तिराहे से अपहरण हुआ था. घटना के 3 दिन बाद अपहरणकर्ताओं ने अपहृत पुष्पेन्द्र के बड़े भाई नरेन्द्र यादव को फोन कर 5 लाख रुपये की फिरौती मांगी थी. पहले तो पुष्पेन्द्र अपने भाई को छुड़ाने के लिए रकम की व्यवस्था करता रहा. जब व्यवस्था होते न दिखी तो, शनिवार को उसने ओरछा थाना पुलिस से पूरे मामले की शिकायत की. सूचना मिलते ही ओरछा पुलिस ने साइबर सेल की मदद से अपहरणकर्ताओं तक पहुंचने के लिये उस मोबाइल को ट्रेस किया गया, जिससे फिरौती मांगी गई थी.

मोबाइल की डिटेल निकाली गई तो, पता चला कि उक्त मोबाइल दो दिन पहले ही अज्ञात बदमाशों द्वारा झांसी ललितपुर मार्ग पर लूटा गया था. इसके बाद पुलिस ने उक्त मोबाइल की लोकेशन उत्तर प्रदेश के झांसी जिले के ग्राम सैंयर, बबीना रेंज एवं सुकवां-ढुकवा डैम के पास मिली. फिरौती की मांग के बाद फोन बंद होने से पुलिस की टीमें इन क्षेत्रों में भेजी गई. वहीं, जब रात्रि के समय फिर से फोन आया, तो उसकी लोकेशन आर्मी रेंज सैंयर जाते हुए एक ढाबे के पास मिली. इस पर पुलिस ने तत्काल सभी टीमों को यहां के लिए रवाना कर दिया.

पुलिस ने ढाबे के सामने उत्तर प्रदेश के झांसी जिले के ग्राम बिजौली से आरोपी मोनू यादव एवं नीतेश यादव को गिरफ्तार कर लिया. पकड़े गये आरोपियों की निशानादेही पर पुलिस ने अपहृत पुष्पेन्द्र यादव को भी बरामद कर लिया. वहीं, आरोपियों के पकड़े जाने के बाद इस पूरे मामले का खुलासा करते हुये एएसपी का कहना है कि यह पूरी कहानी अपहृत पुष्पेन्द्र यादव ने अपना कर्जा चुकाने के लिये अपने दोस्त मोनू यादव के साथ मिलकर रची थी. पुलिस ने तीनों आरोपियों के खिलाफ धारा 364ए एवं 120बी के तहत मामला दर्ज कर आरोपियों को न्यायालय में पेश कर दिया.