मंदसौर रेप केसः दूसरे आरोपी की मां ने बेटे को बताया निर्दोष, बोली- मामले की CBI जांच हो

दूसरे आरोपी को मंदसौर पुलिस ने 27 जून को उसके घर से गिरफ्तार किया था.

मंदसौर रेप केसः दूसरे आरोपी की मां ने बेटे को बताया निर्दोष, बोली- मामले की CBI जांच हो
(फोटो साभार: ANI)

नई दिल्लीः मध्यप्रदेश के मंदसौर में 26 जून को नाबालिग बच्ची के साथ दुष्कर्म मामले में मंदसौर पुलिस ने इरफान और आसिफ को जांच के आधार पर आरोपी बनाया है. दोनों आरोपियों को पुलिस गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश कर चुकी है. वहींं, पकड़े गए दूसरे आरोपी आसिफ के घरवालों का कहना है कि 26 जून के दिन आसिफ 5:00 बजे घर पर ही था. मंदसौर पुलिस ने आसिफ को 27 जून की रात उसके मदारपुरा स्थित घर से रात 3:00 बजे गिरफ्तार किया था और 29 जून को सबके सामने पेश किया. पुलिस के मुताबिक दोनों ही आरोपियों ने बच्ची के साथ पहले रेप किया. बाद में इरफान ने बच्ची का गला काटने की कोशिश की. वहीं आसिफ के परिवार के लोगों का कहना है कि यदि वह दोषी है तो उसे भी सजा मिले और अगर न निर्दोष है तो उसे छोड़ दिया जाए. 

आसिफ की मां ने की सीबीआई जांच की मांग
पुलिस के मुताबिक, मासूम को स्कूल से लेने आसिफ ही पहुंचा था. बच्ची को स्कूल से लेने के बाद उसने बच्ची को इरफान के साथ भेज दिया और खुद भी पीछे-पीछे घटना स्थल तक पहुंच गया. आसिफ के बारे में जानकारी मिलने पर 27 जून की रात के 3:00 बजे उसे पुलिस ने घर से गिरफ्तार कर लिया था. उधर, आसिफ की मां ने सीबीआई जांच की मांग की है. उन्होंने न्यूज एजेंसी ANI से कहा, "मुझे भरोसा है कि वह (आसिफ) निर्दोष है. इस मामले की सीबीआई जांच होनी चाहिए. यदि उसे दोषी पाया जाता है तो कड़ी से कड़ी सजा दी जाए."

आसिफ की मां का कहना है कि आसिफ को दुष्कर्म मामले में आरोपी बनाया जा रहा है जबकि उसकी गलती सिर्फ इतनी है कि वह आरोपी इरफान के साथ सेकंड हैंड मोबाइल लेने एक दुकान तक गया था. मोबाइल की कीमत 5000 रुपये थी और आसिफ के पास सिर्फ 3000 रुपये की ही व्यवस्था थी जिसके चलते वह मोबाइल नहीं ले पाया और घर वापस आ गया.

सीसीटीवी फुटेज में नहीं दिख रहा आसिफ
आसिफ के परिजनों का दावा है कि मंदसौर पुलिस के पास अब तक कोई ऐसा सीसीटीवी फुटेज नहीं आया है जिसमें आसिफ कहीं दिख रहा हो. आसिफ की मां और बीवी दोनों ही पीड़ित बच्ची के लिए दुआ की और असली आरोपी को पकड़ने की बात कही.