E.Sreedharan के बीजेपी से जुड़ने की ये है वजह! लव जिहाद और बीफ को लेकर कही थी ये बात

केरल में बीजेपी चीफ के सुरेंद्रन ने E.Sreedharan को सीएम पद का उम्मीदवार बनाने की बात कही है. वहीं केन्द्रीय राज्यमंत्री वी.मुरलीधरन ने भी इसके संकेत दिए हैं.

E.Sreedharan के बीजेपी से जुड़ने की ये है वजह! लव जिहाद और बीफ को लेकर कही थी ये बात
मेट्रो मैन ई.श्रीधरन.

नई दिल्लीः मेट्रो मैन के नाम से मशहूर E.Sreedharan को आगामी केरल विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा अपना सीएम कैंडिडेट घोषित कर सकती है. 88 वर्षीय ई. श्रीधरन ने बीते सप्ताह ही भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ग्रहण की थी. केरल में बीजेपी चीफ के सुरेंद्रन ने ई.श्रीधरन को सीएम पद का उम्मीदवार बनाने की बात कही है. वहीं केन्द्रीय राज्यमंत्री वी.मुरलीधरन ने भी इसके संकेत दिए हैं. हालांकि अभी तक पार्टी की तरफ से इस मुद्दे पर कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है.

ई. श्रीधरन के भाजपा के साथ जुड़ाव की कई वजह मानी जा रही हैं. इन्हीं वजहों का जिक्र निम्न किया गया है-

भाजपा की भी जरूरत
केरल में भाजपा अपनी जड़े मजबूत करने की कोशिश कर रही है लेकिन काफी कोशिशों के बाद भी पार्टी को दक्षिण भारत के इस राज्य में खास सफलता नहीं मिल पाई है. इसकी एक बड़ी वजह केरल में भाजपा के पास एक बड़े चेहरे की कमी भी एक बड़ी वजह मानी जा रही है. ऐसे में ई.श्रीधरन जैसे मशहूर टेक्नोक्रेट का भगवा पार्टी के साथ आना भाजपा को फायदा पहुंचा सकता है. 

कांग्रेस और लेफ्ट पार्टी के रहे हैं आलोचक
ई.श्रीधरन कोच्चि मेट्रो ट्रेन प्रोजेक्ट के लिए केरल में कांग्रेस और मौजूदा सत्ताधारी लेफ्ट पार्टी की सरकार के साथ काम कर चुके हैं. हालांकि ऐसा लगता है कि दोनों ही सरकारों के साथ वह सहज नहीं रहे. यही वजह है कि वह दोनों पार्टियों पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाते रहे हैं. वहीं ई. श्रीधरन कई बार पीएम मोदी की सार्वजनिक तौर पर तारीफ कर चुके हैं. 

भाजपा की विचारधारा का कर चुके हैं समर्थन E.Sreedharan
श्रीधरन ने हाल ही में एक निजी वेबसाइट के साथ बातचीत में बताया था कि उनकी विचारधारा भाजपा की विचारधारा से मिलती है. भाजपा एक मात्र ऐसी पार्टी है, जिसके साथ वह खुद को जोड़ सकते हैं. उनका कहना है कि पिछले 20 सालों में केरल में कोई भी इंडस्ट्री नहीं आई है. केरल में इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलेप करना हमारी प्राथमिकता होगी. अभी जो पार्टियां सत्ता में हैं, वो काम नहीं कर पा रही हैं, विकास उनकी प्राथमिकता में नहीं है. 

लव जिहाद और बीफ पर कही थी ये बात
एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, ई.श्रीधरन से जब केरल में लव जिहाद के मुद्दे पर उनके विचार पूछे गए तो उन्होंने कहा था कि "हां उन्होंने देखा है कि केरल में इन दिनों क्या हो रहा है. किस तरह से हिंदुओं को शादी के नाम पर फंसाया जा रहा है और उन्हें परेशानी झेलनी पड़ रही है. लेकिन ना सिर्फ हिंदुओं, मुस्लिमों और ईसाइयों को भी शादी के नाम पर फंसाया जा रहा है. ये ऐसी चीज है जिसका मैं विरोध करूंगा."

जब उनसे बीफ के मुद्दे पर बात की गई तो उन्होंने कहा कि व्यक्तिगत तौर पर मैं शुद्ध शाकाहारी हूं और मैं अंडा भी नहीं खाता हूं. इसलिए मैं मांस खाने वाले किसी व्यक्ति को पसंद नहीं करता हूं. 

रोजाना पढ़ते हैं भगवद गीता 
अपने एक पुराने इंटरव्यू में ई. श्रीधरन ने कहा था कि उनके मन में भगवद गीता के लिए बहुत सम्मान है और वह रोजाना भगवद गीता पढ़ते हैं. इतना ही नहीं उन्होंने यह भी कहा था कि सभी लोगों को भगवद गीता पढ़नी चाहिए क्योंकि वह रोजाना के जीवन में आने वाली समस्याओं का हल सुझाती है.