close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

MP: ओरछा में बेतवा और जामनी नदी में आई बाढ़ के बीच फंसे थे 7 लोग, 2 दिनों बाद किए गए रेस्क्यू

प्रशासन कल पूरे दिन नदियों के पानी कम होने का इंतजार करता रहा, लेकिन प्रशासन की इस मंशा पर पिछले 24 घंटे से रूक रूक कर हो रही वारिश और माताटीला बांध से छोड़े गये 3 लाख क्यूसेक पानी ने पानी फेर दिया.

MP: ओरछा में बेतवा और जामनी नदी में आई बाढ़ के बीच फंसे थे 7 लोग, 2 दिनों बाद किए गए रेस्क्यू
दोनों नदियों के बीच फंसे सभी 7 लोगों को सकुशल मोटर बोट की मदद से बाहर निकाला गया है. (फाइल फोटो)

भोपालः मध्य प्रदेश में इन दिनों भारी बारिश का दौर जारी है. जिससे लोगों को खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. निवाड़ी जिले में बीते 2 दिनों से रुक-रुककर हो रही बारिश और माताटीला बांध से छोड़े गए पानी के चलते बेतवा और जामनी नदी उफान पर है. धार्मिक और पर्यटन नगरी ओरछा के पास से निकली बेतवा और जामनी नदी के बीच पिछले 2 दिनों से फंसे 7 लोगों को आज ग्वालियर से आई एसडीआरएफ की रेस्क्यू टीम ने मोटर बोट की मदद से सकुशल बाहर निकाल लिया है. बाढ में फंसे लोगों का नाम पृथ्वीपुर निवासी अंकित चतुर्वेदी, अंजनी नायक, अरविंद ठाकुर और नितिन रावत है.

दरअसल, ओरछा के पास से गुजरी बेतवा और जामनी नदी में आई बाढ़ के चलते दोनों नदियों के बीच पिछले दो दिनों से 7 लोग फंसे हुए थे. जिसकी प्रशासन को जानकारी होने के बावजूद भी इन लोगों को निकालने के लिये कोई प्रयास नहीं किया गया. प्रशासन कल पूरे दिन नदियों के पानी कम होने का इंतजार करता रहा, लेकिन प्रशासन की इस मंशा पर पिछले 24 घंटे से रूक रूक कर हो रही वारिश और माताटीला बांध से छोड़े गये 3 लाख क्यूसेक पानी ने पानी फेर दिया. जिससे दोनों पुलों के ईपर पानी कम होने के बजाये बढ़ गया.

देखें लाइव टीवी

टीकमगढ़ः जान जोखिम में डालकर उफनदी नदी में स्टंट दिखा रहे हैं बच्चे, प्रशासन बेखबर

ऐसे में स्थानीय रेस्क्यू टीम भी रिस्क उठाने को तैयार नहीं हुई और नदियों के बीच फंसे इन लोगों को एक रात और दोनों नदियों के बीच जंगल में गुजराना पडा, जंगल में फंसे लोगों का कहना है कि वह भयभीत थे और पिछले दो दिन उन्होंने बमुश्किल जंगल में गुजारे, वन विभाग के कर्मचारियों का जरूर सहयोग मिला. वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देश पर रेस्क्यू टीम ग्वालियर से देर रात ओरछा पहुंची और सुबह रेस्क्यू कर दोनों नदियों के बीच फंसे सभी 7 लोगों को सकुशल मोटर बोट की मदद से बाहर निकाला गया.