close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

MP: अघोषित बिजली कटौती पर फूटा कांग्रेस पार्षद का गुस्सा, भाई के साथ की JE की पिटाई

पिटाई करने का आरोप काग्रेस पार्षद लोकेश गोगले पर लगा है. पिटाई में जेई को मुंह में चोट आई है. मामला बिगड़ता देख दोनों पक्ष देहात थाने पहुंचे ओर लिखित शिकायत की है.

MP: अघोषित बिजली कटौती पर फूटा कांग्रेस पार्षद का गुस्सा, भाई के साथ की JE की पिटाई
कांग्रेस पार्षद ने 3 दर्जन लोगों के साथ बिजली ऑफिस पहुंचकर जेई की पिटाई की.

नई दिल्लीः मध्य प्रदेश में इन दिनों अघोषित बिजली कटौती का मामला थमने का नाम नही ले रहा है, जिसके चलते आए दिन बिजली कर्मचारियों से मारपीट के मामले भी सामने आ रहे हैं. शुक्रवार देर रात ग्वालटोली क्षेत्र में रहने वाले लोगो का अघोषित बिजली कटौती को लेकर गुस्सा देखने को मिला. गुस्साए लोगों ने फेपरताल स्थित एमपीईबी कार्यालय जाकर जेई करनलाल संत की पिटाई कर दी. पिटाई करने का आरोप काग्रेस पार्षद लोकेश गोगले पर लगा है. पिटाई में जेई को मुंह में चोट आई है. मामला बिगड़ता देख दोनों पक्ष देहात थाने पहुंचे ओर लिखित शिकायत की. देहात थाना पुलिस ने जेई का मेडिकल कराकर कांग्रेस पार्षद लोकेश गोगले उनके भाई और अन्य 35 लोगों के खिलाफ शासकीय कार्य मे बाधा उत्पन्न करने का मामला दर्ज किया है.

बताया जा रहा है की क्षेत्र में लगतार 10 से 12 बार बिजली गुल हो रही थी. जिसके बाद कांग्रेस पार्षद सहित 3 दर्जन से अधिक लोग बिजली दफ्तर पहुंचे. बताया जा रहा है की लोगों ने जबरन फीडर के अंदर घुसकर दूसरे इलाकों की चालू बिजली को बंद कर दिया. इसी बात को लेकर जेई ओर लोगों में विवाद हो गया. जिसके बाद पार्षद सहित मौजूद लोगों ने जेई की पिटाई कर दी. फिलहाल दोनों की लिखित शिकायत के बाद देहात पुलिस ने कांग्रेस पार्षद सहित अन्य 36 पर मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.

इंदौर में बिजली कटौती पर छलका 'राहत इंदौरी' का दर्द, बोले- 'कोई फोन नहीं उठा रहा, कुछ मदद करें'

देखें लाइव टीवी

मध्‍य प्रदेश में 15 साल बाद बिजली फिर चुनावी मुद्दा, कांग्रेस की बढ़ सकती है मुसीबत

इससे पहले भी एक ऐसा ही मामला  सामने आया था, जहां लोगों ने बिजली की समस्या के चलते लाइनमैन की पिटाई कर दी थी. बता दें मध्य प्रदेश के गुना जिले में एक तिलक समारोह के दौरान बिजली गुल होने पर गुस्साए लोगों ने लाइनमैन पर धावा बोल दिया था और उसके पंजे काटने के मकसद से धारदार हथियार से हमला कर दिया था. जिसके बाद घटना स्थल से जान बचाकर भागे लाइनमैन ने पुलिस में इसकी शिकायत दर्ज कराई. लगों के इस हमले में लाइनमैन के हाथ और पंजे में गंभीर चोटें आई थी.