दिग्विजय के आरोप पर शिवराज का पलटवार, कहा- कांग्रेस को दिखने लगी हार

मध्य प्रदेश में विधानसभा उपचुनाव में ईवीएम को लेकर घमासान छिड़ गया है. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह आमने-सामने आ गए हैं. दिग्विजय सिंह ने ईवीएम को लेकर बीजेपी पर फिर से निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि ईवीएम में चिप होती है और वह हैक हो सकती है.

दिग्विजय के आरोप पर शिवराज का पलटवार, कहा- कांग्रेस को दिखने लगी हार
फाइल फोटो

भोपाल: मध्य प्रदेश में विधानसभा उपचुनाव में ईवीएम को लेकर घमासान छिड़ गया है. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह आमने-सामने आ गए हैं. दिग्विजय सिंह ने ईवीएम को लेकर बीजेपी पर फिर से निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि ईवीएम में चिप होती है और वह हैक हो सकती है. कांग्रेस नेता के आरोप पर  शिवराज ने पलटवार किया. उन्होंने कहा कि कांग्रेस को हार दिखने लगी है, तो वो ईवीएम पर ठीकरा फोड़ रहे हैं. 

सीएम शिवराज का दिग्विजय पर पलटवार
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि  'दिग्विजय सिंह पहले से हार की भूमिका बनाने लगे हैं. यही ईवीएम 2018 के चुनावों में थी, जिसमें कांग्रेस को 114 सीट मिलीं, तब ईवीएम ठीक थी. अब जब कांग्रेस को हार दिख रही है, तो इसका ठीकरा ईवीएम पर मढ़ दो और खुद छुट्टी पा लो.’ कमलनाथ के मंगल वाले बयान को लेकर शिवराज ने कहा कि 'मंगल जनता का होगा, क्योंकि बीजेपी प्रदेश की सभी 28 सीटों पर जीत हासिल करेगी. उन्होंने कमलनाथ के हनुमान भक्त होने पर कहा कि पूजा का मतलब ये नहीं है कि आज मतदान है, तो चलो सवा रुपइया चढ़ा कर सब मांग लो। भगवान अंतर्यामी हैं और वो सब जानते हैं, हम तो रोज उपासना करते हैं.’

दिग्विजय ने लगाए थे ईवीएम में गड़बड़ी के आरोप
आपको बता दें कि कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने ट्वीट कर लिखा था कि 'तकनीकी युग में विकसित देश EVM पर भरोसा नहीं करते पर भारत व कुछ छोटे देशों में EVM से चुनाव होते हैं. विकसित देश क्यों नहीं कराते? क्योंकि उन्हें EVM पर भरोसा नहीं है, क्यों? क्योंकि जिसमें चिप है वो हैक हो सकती है.'

ये भी पढ़ें: वोट डालने के बाद बोले सिंधिया, कमलनाथ के आरोपों से कुछ नहीं होगा, जनता BJP के साथ

दिग्विजय सिंह ने कहा था कि चुनाव में गड़बड़ी का आरोप लगाते हुए कहा था कि जनता चुनाव लड़ रही है, जब जनता चुनाव लड़ती है, तो पूरा शासन और प्रशासन कितनी भी कोशिश कर ले, ज्यादा प्रभाव पड़ने वाला नहीं. जैसा कि हमने आगाह कर दिया था कि जनता इन्हें हराना चाहती है. ये केवल प्रशासन के जरिए चुनाव जीतना चाहते हैं. कई जगह से शिकायत आ रही है कि गरीबों को वोट नहीं डालने दिया जा रहा है.  उनकी मतदाता पर्ची बीएलओ से छुड़ाकर भाजपा के लोगों ने अपने पास रख ली हैं.’

WATCH LIVE TV: