मप्र: मंदसौर में खेत में किसान ने लगाई फांसी, कुंए में लटका मिला शव

मृतक किसान का नाम भवरलाल पिता रूपा लाल धनगर उम्र 50 साल है. 

मप्र: मंदसौर में खेत में किसान ने लगाई फांसी, कुंए में लटका मिला शव
(प्रतीकात्मक फोटो)

नई दिल्लीः मध्यप्रदेश के मंदसौर के नारायणगढ़ थाना क्षेत्र के काचरिया कदमाला में एक किसान ने अपने खेत पर सूखे कुएं में लटककर फांसी लगाकर अपनी जान दे दी. पुलिस ने जानकारी के मुताबिक मृतक की जेब से एक पर्ची (स्टाम्प) मिली है. जिसपर लिखा है कि लेन देन चुकता. मतलब कोई कर्ज बाकी नही है. बता दें मृतक किसान की जेब में मिले खत में यह लिखा-पढ़ी 2017 की बताई जा रही है. मौके पर पहुंची पुलिस अभी मामले की जांच की बात कह रही है. पुलिस का कहना है कि सामने आए तथ्यों के मुताबिक किसान पर फिलहाल कोई कर्ज नही था. संभवतया किसान ने किसी और परेशानी की वजह से आत्महत्या की है.

PM मोदी की किसानों से मन की बात
बता दें जिस वक्त किसान ने मौत को गले लगाया ठीक उसी वक्त PM मोदी नमो ऐप के जरिए किसानों से बात कर रहे थे. नमो ऐप के जरिए PM मोदी किसानों से सीधी बात कर रहे थे और बता रहे थे कि पिछले वर्षों में भाजपा सरकार ने क्या-क्या काम किये. साथ ही PM मोदी ने किसानों से आमदनी बढ़ाने और विकास के मुद्दों पर भी चर्चा की.

मृतक किसान के तीन बच्चे
मृतक किसान का नाम भवरलाल पिता रूपा लाल धनगर उम्र 50 साल है. मृतक किसान के 3 बच्चे हैं. 1 की उम्र 18 वर्ष नाम कन्हैयालाल दूसरा 16 वर्षीय अर्जुन और एक लड़की है. लड़की की शादी हो चुकी है. मौके पर पहुंची पुलिस ने मर्ग कायम कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और मामले में जांच के बाद जल्दी ही निष्कर्ष पर पहुंचने की बात कह रही है.

किसान पर था तीन बैंकों का कर्ज
बता दें किसान के पास गांव में करीब 10 बीघा जमीन भी है. जिसमें वह खेती-किसानी कर अपने परिवार का भरण-पोषण करता था. किसान के ऊपर सेंट्रल बैंक का डेढ़ लाख, भारतीय स्टेट बैंक का सवा लाख और ग्रामीण सहकारी बैंक का भी कर्जा था. जिसे चुकाने के लिए किसान ने कुछ दिनों पहले ही अपना खेत भी बेचा था, लेकिन कर्ज ज्यादा होने के कारण कुछ कर्जा बकाया रह गया था.