close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

MP: भाजपा नेताओं की कथित गुंडई से परेशान पूर्व CM की डॉ बहू ने नौकरी से दिया इस्तीफा

जबलपुर के विक्टोरिया अस्पताल में पदस्थ डॉक्टर रचना शुक्ला ने अस्पताल से इस्तीफा दे दिया है.

MP: भाजपा नेताओं की कथित गुंडई से परेशान पूर्व CM की डॉ बहू ने नौकरी से दिया इस्तीफा
डॉ रचना शुक्ला ने अस्पताल से दिया इस्तीफा

नई दिल्लीः जबलपुर के विक्टोरिया अस्पताल में पदस्थ डॉक्टर रचना शुक्ला ने अस्पताल से इस्तीफा दे दिया है. डॉक्टर रचना ने अपना इस्तीफा स्वास्थ्य संचालक को भेजा है. बता दें कि डॉक्टर रचना ने अपना इस्तीफा फेसबुक पर भी शेयर किया है. अपने इस्तीफे की वजह बताते हुए रचना ने बीजेपी नेताओं पर अस्पताल में गुंडागर्दी करने और सरेआम गंदी गालियां देने का आरोप लगाया है. सिस्टम से नाराज डॉक्टर का कहना है कि 'सिस्टम से नाराज हूं और जबाव है इस्तीफा'. अस्पताल में हुई गुंडागर्दी को लेकर डॉक्टर रचना का कहना है कि कुछ बीजेपी नेताओं ने उनके साथ सरेआम गुंडागर्दी की और रेप की धमकी दी है. यहां तक कि जब वह पुलिस के पास पहुंची तो उस पर भी उन्हें धमकियां दी गईं और कहा गया कि लोग आकर तुम्हारी इज्जत उतार देंगे. 

भाजपा नेता टीटू सोनकर पर आरोप
डॉक्टर रचना ने बीजेपी नेता टीटू सोनकर पर रेप की धमकी देने का आरोप लगाया है. उनका कहना है कि पहले तो भाजपा के नेताओं ने उनके साथ गुंडागर्दी की फिर रेप की धमकी भी दी. अपनी शिकायत लेकर जब वह पुलिस के पास गईं तो पुलिस ने भी दबंगों के खिलाफ कोई कार्यवाई नहीं की जिसको लेकर वह काफी दुखी हैं. गुंडागर्दी के दौरान दबंगों ने ऐसी-ऐसी गालियां दीं जिनके बारे में जिक्र भी नहीं किया जा सकता.

क्या लिखा फेसबुक पर
फेसबुक पर अपना इस्तीफा शेयर करते हुए डॉक्टर रचना ने लिखा कि "मैं और मेरा परिवार राजनीति और पुलिस से संबंध रखते हैं. लेकिन अब तक मेरी रिपोर्ट दर्ज नहीं की गई. मैं सिस्टम से काफी नाराज हूं और उसका जबाव है मेरा इस्तीफा." रचना के मुताबिक उन्हें न सिर्फ अस्पताल में धमकी दी गई बल्कि जब वह पुलिस स्टेशन गईं तो वहां भी कुछ गुंडों ने आकर उन्हें धमकी दी और कहा कि 10 लोग आकर तुम्हारी इज्जत उतार कर रख देंगे. इतना सब होने के बाद भी पुलिस चुप रही और कोई कार्यवाई नहीं की. जिसके कारण मैंने यह इस्तीफा दिया है.

क्या है मामला
मामला दरअसल, 5 फरवरी का है जब डॉक्टर रचना ड्यूटी पर थीं. इस दौरान एक बच्ची को लेकर कुछ परिजन डॉक्टर रचना के पास पहुंचे. प्राथमिक उपचार के बाद डॉक्टर रचना ने बच्ची को किसी स्पेशलिस्ट को दिखाने की बात कही जिसे लेकर परिजन भड़क उठे और डॉक्टर रचना को धमकाने लगे. इसके साथ ही परिजन रचना से बदतमीजी करने लगे. जिसे लेकर रचना ने सीनियर्स के पास इसकी शिकायत की और इसके बाद डॉक्टर रचना ने पुलिस से डॉक्टर प्रोटेक्शन एक्ट के तहत कार्यवाई करने की मांग की, लेकिन रचना की किसी ने नहीं सुनी. उल्टा न तो पुलिस ने इस पर कोई कार्यवाई की और न ही रचना की सुनी.

कौन हैं रचना शुक्ला
बता दें कि डॉक्टर रचना शुक्ला मध्यप्रेदश के पूर्व मुख्यमंत्री रहे स्वर्गीय पंडित श्यामचरण शुक्ला के भाई की बहु हैं. रचना के मुताबिक उनके परिवार में राजनेता, पुलिस, वकील सब हैं. लेकिन फिर भी उन्हें न्याय के लिए भटकना पड़ रहा है. नामी परिवार से होने के बाद भी पुलिस ने उनकी नहीं सुनी उल्टा गुंडों के सामने पुलिस ने चुप्पी साध रखी है. पिछले 3 महीने गुजर जाने के बाद भी पुलिस ने केस पर कोई कार्यवाई नहीं की.