MP सरकार ने सरदार सरोवर बांध प्रभावितों की मानीं मांगें, आंदोलन खत्म

मध्यप्रदेश सरकार ने सरदार सरोवर बांध (Sardar Sarovar Dam) प्रभावितों की मांगें मान ली हैं. सरकार ने सरदार सरोवर बांध के डूब प्रभावितों की मांगें मानने का लिखित आश्वासन दिया है.

MP सरकार ने सरदार सरोवर बांध प्रभावितों की मानीं मांगें, आंदोलन खत्म
मेधा पाटकर (फाइल फोटो)

भोपाल: मध्यप्रदेश सरकार (Government of Madhya Pradesh) ने सरदार सरोवर बांध (Sardar Sarovar Dam) प्रभावितों की मांगें मान ली हैं. सरकार ने सरदार सरोवर बांध के डूब प्रभावितों की मांगें मानने का लिखित आश्वासन दिया है, जिसके बाद आंदोलनकारियों (Agitators) ने राजधानी भोपाल (Bhopal) में छह दिन से जारी आंदोलन गुरुवार को खत्म करने का ऐलान किया है. नर्मदा बचाओ आंदोलन (Narmada Bachao Andolan) के राहुल यादव ने बताया कि सरदार सरोवर बांध प्रभावितों की मांगों को लेकर राजधानी के नर्मदा भवन के सामने छह दिन से धरना दिया जा रहा था, जिसे अब खत्म कर दिया गया है.

राज्य सरकार के नर्मदा घाटी मंत्री सुरेंद्र सिंह बघेल (Narmada Valley Minister Surendra Singh Baghel) ने नर्मदा बचाओ आंदोलन की प्रमुख मेधा पाटकर (Medha Patkar) के नेतृत्व में प्रतिनिधिमंडल से चर्चा की और 34 मांगों को पूरा करने की लिखित सहमति दी. साथ ही एक समिति का भी गठन किया है. यादव के अनुसार, मंत्री का लिखित आश्वासन मिलने के बाद आंदोलन खत्म कर दिया गया. 

बैतूल ट्रिपल मर्डर: बंद कमरे में तीन शव मिलने से सनसनी, धारदार हथियार से किए गए वार

आंदोलन में हिस्सा लेने प्रभावित क्षेत्र के सैकड़ों लोग भोपाल (Bhopal) पहुंचे थे. आंदोलन को माखनलाल पत्रकारिता विश्वविद्यालय (Makhanlal Journalism University) के छात्रों ने भी समर्थन दिया था. मंत्री बघेल ने समझौता वार्ता में बताया कि सरदार सरोवर बांध के पात्र डूब प्रभावित परिवार, जिनका घर क्षेत्र में आई बाढ़ के दौरान तहस-नहस हो गया था और वह अभी टीन के शेड्स में रहते हैं, उन प्रत्येक परिवार को मकान के लिए 5 लाख 80 हजार रुपये का अनुदान जल्द दिया जाएगा.