MP: शिक्षक की अनूठी पहल, छात्रों को पढ़ाने के लिए जुगाड़ से बनाई ग्रहानुसार वजन तोलने की मशीन

साइंस सेंटर में इस मशीन की कीमत करीब तीन लाख बताई जा रही है. लेकिन आपको ये जानकर हैरानी होगी की शिक्षक राजेश पराशर ने 10 दिनों की मेहनत के बाद ये मशीन सिर्फ 20 हजार रूपये में तैयार कर दी.

MP: शिक्षक की अनूठी पहल, छात्रों को पढ़ाने के लिए जुगाड़ से बनाई ग्रहानुसार वजन तोलने की मशीन

पीतांबर जोशी, होशंगाबाद: मध्‍य प्रदेश (Madhya Pradesh) में होशंगाबाद के एक सरकारी स्कूलों में शिक्षा के स्तर को सुधारने के लिए एक अनूठी पलह की शुरूआत हुई है. जहां छात्र-छात्राओं का प्रयोगिक ज्ञान बढ़ाने के लिए जुगाड़ से वजन तौलने की मशीन बनाई है. इस मशीन की खासियत है कि यह मशीन आपका वजन ग्रहों के अनुसार बताएगी. यानि किस ग्रह पर आपका वजन कितना होगा, इस बात की जानकारी हमे इस मशीन से मिल सकती है. साइंस सेंटर में इस मशीन की कीमत करीब तीन लाख बताई जा रही है. लेकिन आपको ये जानकर हैरानी होगी की शिक्षक राजेश पराशर ने 10 दिनों की मेहनत के बाद ये मशीन सिर्फ 20 हजार रूपये में तैयार की है.

शिक्षक राजेश पराशर ने बताया की इसी मशीन को इलेक्ट्रॉनिक तोल काटे ओर कुछ सर्किट में परिवर्तन करके महज 20 हजार रुपये में तैयार किया गया हैं. मशीन में 8 आईसी का उपयोग किया गया है जिन्हें ग्रहों के फार्मूले के हिसाब से बदला गया है. मशीन को बनाने में 10 दिन का समय लगा जिसमें सात दिन का समय मेप बनाने और सर्किट बनाने में लगा और तीन दिन मशीन को एसम्बल करने में लगा. जिसके बाद मशीन तैयार हो गई.

उन्‍होंने बताया कि मशीन स्कूल की विज्ञान प्रयोगशाला में रखी हुई है. इस प्रयोगशाला में सभी विद्यालय के बच्चे पढ़ाई के लिए आते है. पढ़ाई के दौरान बच्चे प्रयोगिक रूप से जान पाते है की उनका वजन अलग-अलग ग्रहों के अनुसार कैसे बदलता है और किन कारणों से बदलता है.

इस अविष्‍कार के बाद होशंगाबाद के केसला ब्लॉक के शासकीय उत्कृष्ट उच्चतर माध्यमिक विद्यालय की चर्चा पूरे जिले में छाई हुई हैं.