MP: मंत्री साधौ बोली, 'डॉक्टर्स को भरना पड़ेगा बॉन्ड, एक साल तक ग्रामीण क्षेत्र में करना होगा काम'

मंत्री विजयलक्ष्मी साधौ ने कहा कि प्रदेश में मेडिकल चिकित्सा सुविधाओं में लगातार सुधार आ रहा है.

MP: मंत्री साधौ बोली, 'डॉक्टर्स को भरना पड़ेगा बॉन्ड, एक साल तक ग्रामीण क्षेत्र में करना होगा काम'
(फाइल फोटो)

अतुल अग्रवाल/सागर: कमलनाथ सरकार में चिकित्सा शिक्षा मंत्री डॉ. विजयलक्ष्मी साधौ ने मंगलवार को बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज की बैठक ली. प्रदेश की चिकित्सा शिक्षा, आयुष एवं संस्कृति विभाग मंत्री डॉ. विजयलक्ष्मी साधौ ने सागर में बैठक ली और जरूरी निर्देश दिए. मंत्री डॉ. विजयलक्ष्मी साधौ ने बैठक के बाद मीडिया से चर्चा करते हुए बड़ा बयान दिया है. मंत्री साधौ ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में एक साल काम नहीं करने पर डॉक्टरों का लाइसेंस निरस्त होगा. उन्होंने कहा कि इसके लिए प्रदेश सरकार नीति बना रही है. उन्होंने कहा कि इसके तहत डॉक्टरों को एक साल तक ग्रामीण क्षेत्रों में काम करने का बॉन्ड भरना पड़ेगा, तभी उन्हें लाइसेंस दिया जाएगा.

मंत्री विजयलक्ष्मी साधौ ने कहा कि प्रदेश में मेडिकल चिकित्सा सुविधाओं में लगातार सुधार आ रहा है. मंत्री साधौ ने कहा कि मुख्यमंत्री कमलनाथ का कहना है, प्रदेश में स्वास्थ्य सुविधाओं की गुणवत्ता के साथ किसी तरह का समझौता नही किया जाएगा. उन्होंने कहा कि प्रदेश में 13 कॉलेज चल रहे है अभी पांच और मंजूर हुए हैं, एक और मिलने वाला है. उन्होंने कहा कि इससे प्रदेश में बेहतर डॉक्टर मिलेंगे. 

उन्होंने कहा कि सरकार मेडिकल कॉलेजों में सुपर स्पेशियलिटी कोर्स शुरू कर रही है. जबलपुर मेडिकल कॉलेज में इसकी शुरुआत हो चुकी है. उन्होंने बताया कि मेडिकल कॉलेज में कुछ नए कोर्स शुरू हुए हैं. इसके साथ प्रत्येक मेडिकल कॉलेज में वायरोलजी लैब खोली जा रही है. इससे डेंगू और स्वाईन फ्लू आदि बीमारियों के परीक्षण जल्दी हो सकेंगे.