बड़वानी: गाजे-बाजे के साथ की बेटे की शादी, घर पहुंचे तो खुला 'लुटेरी दुल्हन' का राज

बड़वानी पुलिस ने लुटेरी दुल्हन और उसके पूरे गिरोह का पर्दाफाश करते हुए बताया कि धार जिले के पीथमपुर रहने वाले दुर्गाशंकर ने शिकायत की थी.

बड़वानी: गाजे-बाजे के साथ की बेटे की शादी, घर पहुंचे तो खुला 'लुटेरी दुल्हन' का राज
शादी वाली रात में कुछ घंटे रुक कर किरण ज्वेलरी लेकर और नकदी लेकर चंपत हो जाती थी.

बड़वानी: शादी के दूसरे ही दिन सोना-चांदी, रुपया-पैसा लूटकर रफूचक्कर हो जाने वाली लुटेरी दुल्हनों के आपने तमाम किस्से पढ़े होंगे. ऐसा ही एक मामला मध्य प्रदेश के बड़वानी जिले में सामने आया है. यहां शादी कर गहने और नगदी लेकर रफूचक्कर होने वाले गिरोह का बड़वानी पुलिस ने पर्दाफाश किया है. पुलिस ने इस मामले में लुटेरी दुल्हन समेत चार लोगों को गिरफ्तार किया है. वहीं, पुलिस के अनुसार, ये लुटेरी दुल्हन अब तक दो शादियां कर चुकी है और एक लव मैरिज करने का मामला भी पता चला है. वहीं, पुलिस को पूछताछ के बाद और खुलासे होने की उम्मीद है.

बड़वानी पुलिस ने लुटेरी दुल्हन और उसके पूरे गिरोह का पर्दाफाश करते हुए बताया कि धार जिले के पीथमपुर रहने वाले दुर्गाशंकर ने शिकायत की थी. उन्होंने शिकायत में कहा था कि बड़वानी निवासी एक लड़की से उनके पुत्र की शादी हुई और शादी के कुछ देर बाद ही लड़की गहने और नगदी लेकर रफूचक्कर हो गई. पुलिस ने मामले को काफी गंभीरता से लिया और उसकी तफ्तीश शुरू की. जांच में पता चला कि बड़वानी का रहने वाला विजय शर्मा समेत इस मामले में तीन अन्य लोग भी शामिल हैं.

पुलिस को ठीकरी की रहने वाली लुटेरी दुल्हन की एक मौसी और उसकी मां सुनीता बाई की जानकारी पता चली. वहीं, बताया जा रहा है कि सुनीता बाई की लड़की किरण की शादी यह लोग करवाते थे. इस गिरोह में तीन महिलाओं और चचेरा भाई समेत चार लोग शामिल थे. विजय शर्मा लड़के पक्ष को लड़की दिखाता था. बड़वानी में ही कोई सा अच्छा सा मकान देखकर वहां लड़के वालों को झांसे में लेते थे. शादी संपन्न होती थी और शादी वाली रात में कुछ घंटे रुक कर किरण ज्वेलरी लेकर और नकदी लेकर चंपत हो जाती थी. पुलिस द्वारा पूरे मामले का खुलासा किया गया है.