जबलपुर में धारा 144 के बीच मनेगा नये साल का जश्न, पुलिस-प्रशासन ने बनाया ये एक्शन प्लान

पुलिस प्रशासन द्वारा मिलकर शहरभर के होटल संचालक, बार संचालक एवं गार्डन संचालक की बैठक ली गई. 

जबलपुर में धारा 144 के बीच मनेगा नये साल का जश्न, पुलिस-प्रशासन ने बनाया ये एक्शन प्लान

कर्ण मिश्रा/जबलपुर: नये साल के शुरू होने से पहले उसके स्वागत में पूरा देश जश्न में डूबा हुआ नजर आ रहा है. हर जगह 31 दिसंबर की रात को आने वाले नये साल के आगमन के लिए लोग काउंटिंग शुरू करते हैं और जैसे ही रात के 12 बजते हैं, लोग मस्ती में झूम उठते हैं. हर किसी के मन से एक ही आवाज बाहर निकलती है, हैप्पी न्यू ईयर. लेकिन, आगर बीते सालों पर गौर किया जाए तो, इसी जश्न के दौरान ड्रिंक एंड ड्राइव के चलते कई लोग मौत के मुंह में समा चुके हैं. 

जबलपुर शहर के विभिन्न होटल एवं बारों में कई लोगों ने अपनी पुरानी रंजिश निकालते हुए झगड़े किए. कई घटनाओं की शिकायत भी हुई. इतना ही नहीं ऐसे आयोजनों के दौरान छात्राओं एवं महिलाओं को भी लोग शराब के नशे में टारगेट करते हैं. ऐसी सभी घटनाओं पर पूरी तरह से रोक लगाने के लिए जबलपुर पुलिस एवं प्रशासन ने एक्शन प्लान तैयार किया है. जिसके चलते 31 दिसंबर को ओर 1 जनवरी को होने वाले सभी आयोजनों पर पुलिस प्रशासन की पैनी नजर रहेगी. जिनमें मुख्य रूप से शहर के होटल, पब, बार और ऐसे गार्डन हैं, जहां पार्टी आयोजित हो रही है. उन पर विशेष ध्यान दिया जाएगा. वर्तमान में शहर में धारा 144 भी प्रभावी है. ऐसे में पुलिस प्रशासन कोई भी लापरवाही बरतना नहीं चाहता है.

पार्टी आयोजकों को दी सख्त हिदायत, न बनाए कोई भी डार्क स्पॉट
पुलिस प्रशासन द्वारा मिलकर शहरभर के होटल संचालक, बार संचालक एवं गार्डन संचालक की बैठक ली गई. जिसमें सख्त हिदायत देते हुए पार्किंग व्यवस्था रात 12:30 बजे तक पार्टी को समाप्त करने, कोई भी डार्क स्पॉट ना बनाने के निर्देश दिए गए. वहीं, महिला सुरक्षा को लेकर भी सभी को अपने स्तर पर वॉलेंटियर नियुक्त करने के भी निर्देश दिए गए. ताकि ऐसे आयोजनों के दौरान होने वाले महिला अपराधों को रोका जा सके.

इस दौरान शराब पीकर स्टंट करने वाले लोगों पर भी पुलिस सख्त कार्यवाही करेगी. जिसके लिए शहर के विभिन्न स्थानों पर चेकिंग प्वाइंट भी बनाए गए हैं. जिन पर ब्रीथ एनालाइजर के माध्यम से चेकिंग कर चालानी कार्यवाही की जाएगी एवं परिवहन विभाग को शराब पीकर वाहन चलाने वाले चालक के खिलाफ लाइसेंस निरस्त किए जाने का भी प्रस्ताव भेजा जाएगा. बहरहाल प्रशासन और पुलिस का मूल उद्देश्य यह है कि लोग सुरक्षित ढंग से नए साल का जश्न मनाए और कोई भी किसी घटना या दुर्घटना का शिकार ना हो.