जानिए सीएम शिवराज क्यों बोले- "कमलनाथ मुख्यमंत्री बने तो वल्लभ भवन में ही सो गए"
X

जानिए सीएम शिवराज क्यों बोले- "कमलनाथ मुख्यमंत्री बने तो वल्लभ भवन में ही सो गए"

सीएम ने जनसभा के दौरान ये भी कहा कि कल वह मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के तहत डेढ़ हजार करोड़ रुपए किसानों के खाते में भेजेंगे.

जानिए सीएम शिवराज क्यों बोले-

भोपालः सीएम शिवराज आज उपचुनाव प्रचार के लिए पृथ्वीपुर पहुंचे. इस दौरान जनसभा को संबोधित करते समय उन्होंने कमलनाथ और कांग्रेस को जमकर कोसा. सीएम ने तंज कसते हुए कहा कि "मैं जनता के बीच जाता हूं तो कमलनाथ जी को तकलीफ होती है. वे मुख्यमंत्री बने तो वल्लभ भवन में ही सो गए; ना कहीं आना, ना जाना, वहीं पड़े रहते थे."  सीएम ने कहा कि हमारे दिल में जनता के कल्याण की तड़प है, तो हम जनता के बीच रहते हैं.

अपने संबोधन में सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि "कोरोना काल में आर्थिक स्थिति कमजोर होने पर भी मैंने ना वेतन रोका ना विकास थमने दिया. कल ही मैंने शासकीय सेवकों का डीए बढ़ाकर 20 फीसदी कर दिया और पिछला बकाया भी दो किस्तों में दे रहा हूं." सीएम ने कहा कि "हमने गरीब बहनों के लिए योजना शुरू की थी कि बेटा बेटी के जन्म से पहले 4 हजार और जन्म के बाद 12 हजार यानी कि कुल 16 हजार रुपए देंगे लेकिन कमलनाथ जी ने इसे बंद कर दिया था. अब हमने इसे दोबारा शुरू किया है."

सीएम ने जनसभा के दौरान ये भी कहा कि कल वह मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के तहत डेढ़ हजार करोड़ रुपए किसानों के खाते में भेजेंगे. इससे पहले सीएम शिवराज जम्मू कश्मीर में आतंकियों से लोहा लेते हुए शहीद हुए सतना के लाल कर्णवीर सिंह को श्रद्धांजलि देने उनके गांव भी गए. वहां सीएम ने शहीद जवान के परिवार को सम्मान निधि के रूप में एक करोड़ रुपए और शहीद के भाई को सरकारी नौकरी देने का ऐलान किया. 

बीते दिनों पूर्व सीएम कमलनाथ ने अपने एक बयान में पीएम मोदी को डायरेक्टर और सीएम शिवराज को एक्टर बताया था. इस पर पलटवार करते हुए खंडवा लोकसभा सीट पर प्रचार करने के दौरान सीएम शिवराज ने कहा था कि हां, मोदी डायरेक्टर हैं, तभी उन्होंने देश को कोरोना से बचाने की वैक्सीन दी, पाकिस्तान को धूल चटाने के लिए सर्जिकल स्ट्राइक की. सीएम ने भी कमलनाथ को कमेंटेटर बता दिया था. 

Trending news