'20:50 फॉर्मूला' पर सियासत: कांग्रेस ने पूछा- अपनों की भर्ती का है प्लान?, BJP का जवाब- सबका होगा 'विकास'
X

'20:50 फॉर्मूला' पर सियासत: कांग्रेस ने पूछा- अपनों की भर्ती का है प्लान?, BJP का जवाब- सबका होगा 'विकास'

ये सिर्फ झूठ का आडंबर दिखा रहे हैं. सरकार के पास किसानों के लिए कोई पॉलिसी नहीं है. मुख्यमंत्री शिवराज इस वक्त सिर्फ इवेंट पॉलिटिक्स कर रहे हैं.

'20:50 फॉर्मूला' पर सियासत: कांग्रेस ने पूछा- अपनों की भर्ती का है प्लान?, BJP का जवाब- सबका होगा 'विकास'

आकाश द्विवेदी/भोपालः मध्य प्रदेश में आज सामान्य प्रशासन विभाग ने आदेश जारी कर '20:50 फॉर्मूला' लागू कर दिया. इसके तहत 20 साल सेवा पूरी कर चुके और 50 साल से ज्यादा उम्र के शासकीय कर्मचारियों की परफॉर्मेंस रिपोर्ट मांगी गई है. इस रिपोर्ट के आधार पर कर्मचारियों के भविष्य का फैसला होगा. पूरे मामले पर अब सियासी पार्टियों में भी हलचल शुरू हो गई. कांग्रेस ने कहा कि सरकार अनुभव को नकारना चाहती है. उन्होंने CM के किसानों को लेकर होने वाले कार्यक्रम पर भी ऐतराज जताया. 

'अपने लोगों को भर्ती करना चाहती है सरकार'
कांग्रेस नेता कुणाल चौधरी ने कहा कि बीजेपी सरकार अनुभव को नकारना चाहती है, कांग्रेस का आरोप है कि प्राइवेट सरकार और अपने लोगों को भर्ती करने के उद्देश्य से MP सरकार ने यह कदम उठाया है. सरकार यूपीएससी और पीएससी की परीक्षा पास कर आए अनुभवी लोगों का डाटा इकट्ठा कर उन्हें बाहर करना चाह रही है. 

यह भी पढ़ेंः- सरकारी डॉक्टर का Video Viral: मरीज से कहा- 'यहां ठीक से इलाज नहीं होगा, प्राइवेट में जाओ'

हर वर्ग को मिलेगा मौका- BJP
कांग्रेस के आरोपों पर MP सरकार में कैबिनेट मंत्री विश्वास सारंग ने पलटवार किया. उन्होंने कहा कि सरकार हर विषय पर युक्तिकरण कर रही है. सरकार सुशासन स्थापित करना चाहती है, इसी कारण यह फैसला लिया गया. इससे हर वर्ग को मौका मिलेगा. 

क्या है 20:50 फॉर्मूला?
20:50 फॉर्मूला केंद्र सरकार की पहल है, जिसे राज्य सरकार ने 2018 में अपनाया और इस पर तेजी से काम भी शुरू किया. इसके तहत 50 साल की उम्र पार कर चुके और 20 साल अपनी सेवा दे चुके कर्मचारियों की परफॉर्मेंस रिपोर्ट मांगी गई है. इस रिपोर्ट में 100 नंबर का मूल्यांकन होगा, जिस भी कर्मचारी के 50 से कम नंबर होंगे, उनकी नौकरी संकट में आ सकती है. सामान्य प्रशासन विभाग ने इन कर्मचारियों के दस्तावेजों की छानबीन के निर्देश जारी किए, इसी का विपक्षी दल विरोध कर रहा है. 

यह भी पढ़ेंः- बाप-बेटी की जहर खाने से मौत, इस कारण पूरे परिवार ने लिया था सामूहिक आत्महत्या का फैसला

किसानों के कार्यक्रम पर कांग्रेस को ऐतराज
CM शिवराज आज तीन बजे भोपाल के मिंटो हॉल में किसान-कल्याण तथा कृषि विकास विभाग अंतर्गत बीज ग्रामों का वर्चुअल शुभारंभ करेंगे. इस कार्यक्रम को लेकर कांग्रेस ने आपत्ति जाहिर की. कांग्रेस नेता कुणाल चौधरी ने कहा कि ये किसान के पेट पर लात और छाती पर गोली मारने वाली सरकार है. 

कांग्रेस का आरोप है कि इन्होंने कर्जमाफी योजना बंद कर दी, अब ये सिर्फ झूठ का आडंबर दिखा रहे हैं. सरकार के पास किसानों के लिए कोई पॉलिसी नहीं है. मुख्यमंत्री शिवराज इस वक्त सिर्फ इवेंट पॉलिटिक्स कर रहे हैं.  

यह भी पढ़ेंः- '20:50 फॉर्मूला' पर सख्त हुई शिवराज सरकारः मांगी कर्मचारियों की परफॉर्मेंस रिपोर्ट; कम नंबर होने पर जाएगी नौकरी!

WATCH LIVE TV

Trending news