पैतृक गांव में आज होगा नंदकुमार सिंह चौहान का अंतिम संस्कार, मौजूद रहेंगे CM सहित पार्टी के बड़े नेता

उनका पार्थिव शरीर देर शाम दिल्ली से भोपाल पहुंचा. इस दौरान स्टेट हैंगर पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने नंदकुमार सिंह चौहान के पार्थिव शरीर को कंधा दिया.

पैतृक गांव में आज होगा नंदकुमार सिंह चौहान का अंतिम संस्कार, मौजूद रहेंगे CM सहित पार्टी के बड़े नेता

भोपाल: खंडवा से सांसद नंदकुमार सिंह चौहान का कल दिल्ली में निधन हो गया. वे काफी दिन से बीमार थे और उनका इलाज दिल्ली के अस्पताल में चल रहा था. ज्यादा सीरियस होने की वजह से उन्हें दिल्ली के मेदांता अस्पताल में शिफ्ट किया गया था. उनका अंतिम संस्कार आज बुरहानपुर जिले में स्थित उनके पैतृक गांव शाहपुर में किया जाएगा. जहां सीएम सहित बीजेपी के तमाम बड़े नेता मौजूद रहेंगे.

10वीं-12वीं की प्रैक्टिकल परीक्षाओं को लेकर बड़ी खबर, इस दिन जारी होगा टाइम टेबल 

उनका पार्थिव शरीर देर शाम दिल्ली से भोपाल पहुंचा. इस दौरान स्टेट हैंगर पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने नंदकुमार सिंह चौहान के पार्थिव शरीर को कंधा दिया. साथ ही इस दौरान मंत्री विश्वास सारंग, तुलसी सिलावट, विधायक अजय विश्नोई सहित कई बीजेपी नेता भी मौजूद रहे.

कमलनाथ ने भी भाजपा कार्यालय पहुंचकर दी श्रद्धांजलि
कांग्रेस नेता और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भी बीजेपी कार्यालय पहुंचकर नंदकुमार सिंह चौहान को श्रद्धांजलि दी. इस दौरान उन्होंने सीएम शिवराज सिंह चौहान से भी मुलाकात की. 

सीएम शिवराज ने व्यक्त किया दु:ख
सांसद नंद कुमार सिंह चौहान के निधन पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दु:ख व्यक्त किया. उन्होंने कहा कि मैंने कभी नहीं सोचा था कि वे इतने जल्दी अलविदा कह देंगे. नन्दू भैया भाजपा के ऐसे नेता रहे, जिन्होंने एक छोटे से कार्यकर्ता से लेकर विधायक, सासंद, महामंत्री, प्रदेश अध्यक्ष के पद पर रहे. वह जन नेता थे. ऐसे नेता को खोने पर हम सब दुखी हैं.

शिवराज सरकार के बजट में सिंधिया के गढ़ ग्वालियर-चंबल का रखा गया ख्याल, जानें क्या मिला

नगर परिषद से शुरू हुआ था नंद कुमार सिंह चौहान का राजनीतिक करियर
नंद कुमार सिंह चौहान ने अपना राजनीतिक करियर 1978 में शाहपुर नगर परिषद से शुरू किया था. उसके बाद वह मध्य प्रदेश विधानसभा में विधायक निर्वाचित हुए. वह वर्ष 1985 से 1996 तक विधायक रहे. वर्ष 1996 में चौहान पहली बार लोकसभा सदस्य के तौर पर निर्वाचित हुए. इसके बाद वह वर्ष 1998, 1999, 2004, और 2014 में भी लोकसभा के लिए निर्वाचित हुए. 

WATCH LIVE TV-