close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

शिक्षा के मंदिर को बना डाला मयखाना!

शिक्षा का मंदिर जब मयखाना बन जाए, शिक्षक ही जब स्कूल में छात्राओं के सामने ही शराबखोरी करने लगे तो बच्चों का भविष्य क्या होगा इसका अंदाजा लगाना मुश्किल नहीं है, पढ़िए ये हैरान कर देने वाली ख़बर।

शिक्षा के मंदिर को बना डाला मयखाना!

नरसिंहपुर: शिक्षा का मंदिर जब मयखाना बन जाए, शिक्षक ही जब स्कूल में छात्राओं के सामने ही शराबखोरी करने लगे तो बच्चों का भविष्य क्या होगा इसका अंदाजा लगाना मुश्किल नहीं है।

ऐसी ही तस्वीरें सामने आईं हैं मध्य प्रदेश के नरसिंहपुर से जहां सालीचौका कन्याशाला की छात्राओं ने प्रभारी प्राचार्य और शिक्षकों पर गंभीर आरोप लगाये हैं।

छात्राओं का कहना है कि प्रभारी प्राचार्य और शिक्षक स्कूल में ही शराब पीते हैं और बच्चियों को बदनीयती से देखते हैं।

छात्राओं के आरोपों की फेहरिस्त लंबी है लेकिन कई बार शिकायत के बाद अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई।

थक हार कर 10वीं, 11वीं और 12वीं की कुछ छात्राओं ने हिम्मत करके स्कूल की अनियमितताओं को उजागर किया।

छात्राओं के आरोप के बाद स्कूल में पाई गई शराब की बोतलें और खाली ग्लास से सजी टेबल के बारे में पूछने पर आरोपी प्रभारी प्राचार्य नाराज हो गए।

वहीं मामले में कलेक्टर ने जांच के आदेश दे दिए हैं अब सवाल ये उठता है की अगर स्कूल में इस तरह शराबखोरी होगी तो छात्राएं कितनी महफूज रहेंगी।

सवाल ये भी है कि क्या ऐसे माहौल में रहकर छात्राओं के अच्छे भविष्य की उम्मीद की जा सकती है?